पिछले साल तमिलनाडु की चीफ मिनिस्टर जयललिता के निधन के कारण अभिनेता रजनीकांत ने अपना जन्मदिन नहीं मनाया. जयललिता के निधन से पूरा तमिलनाडु शोक में डूबा था. जिसके कारण रजनीकांत को बधाई देने के लिए ना ही मोटर बाइक पर रेलिया निकाली गईं और ना ही ट्रक सजाए गए. इस साल रजनीकांत जो कि 67 साल के हो गए हैं, विशेष तरीके से अपना जन्मदिन नहीं मनाना चाहते. इसकी वजह पिछले हफ्ते ओखी तूफान के कारण 500 मछुआरे गुम हो गए और 40 की मौत हो गई.

साउथ के लोग भगवान की तरह रजनीकांत की पूजा करते हैं. उनके फैंस की लिस्ट में उनके दामाद शामिल हैं. धनुष 15 सालों में 38 फिल्में कर चुके हैं. 3 नेशनल अवॉर्ड और 7 फिल्मफेयर अवॉर्ड के खिताब से नवाजे जा चुके हैं. धनुष रजनीकांत की बड़ी बेटी ऐश्वर्या के पति और कॉलीवूड के सुपरस्टार हैं. पीपिंग मून.कॉम ने धनुष से संपर्क साधा और उके सुपरस्टार ससुर रजनीकांत के बारे में कुछ खास बातचीत की.

1. आप आपने ससुर को ‘रजनी सर’ कहते हैं. ऐश्वर्या और आपकी शादी को कितना समय हो गया हैं?
हमारी शादी को 13 साल हो गए हैं. हमारे दो बच्चें (यात्रा और लिंगा) हैं. अमिताभ बच्चन की तरह (शमिताभ में मेरे को-स्टार) रजनीकांत भी मेरे लिए आइकॉन की तरह हैं. में खुशनसीब हूं कि मैं उनके परिवार का हिस्सा हूं. मैं हमेशा से उनका फैन रहा हूं. उनकी फिल्म देखने के लिए 7-8 घंटो तक में लाइन में खड़ा रहा. जब भी उनके पास बैठता हूं तो एक फैन की तरह ही बैठता हूं.

2. क्या एक अभिनेता के रूप में रजनीकांत आप की तारीफ करते हैं?
रजनी सर को मेरा काम अच्छा लगता हैं, उन्हें मुझपर फक्र हैं. अगर उन्हें आपकी फिल्म पसंद आती है तो फोन उठाकर वो आपके काम की प्रशंसा करेंगे. मेरी फिल्म ‘कधल कोंडाइन’ (2003) की रिलीज के बाद उन्होंने मुझे फ़ोन कर अपने फार्महाउस पर बुलाया, ये कहने के लिए कि फिल्म में मेरा काम अच्छा था.

3. किस तरह का रिश्ता है आपका अपने ससुर (रजनीकांत) के साथ?
हमारा रिश्त बहुत ही नॉर्मल हैं. दुनिअय उन्हें जानती है लेकिन उनका कोई दूसरा रूप नहीं हैं. सबकुछ बदल सकता है लेकिन मैं उनका फेन हूं ये चीज कभी नहीं बदल सकती.

4. क्या वो आपकी सफलता से खुश हैं. फोर्ब्स लिस्ट में (2015) आप 37वें नंबर पर थे और वो 69वें नंबर पर और 2016 में आप 70वें नंबर पर थे और वो 46वें नंबर पर थे?
रजनी सर लेजेंडरी स्टेटस की सीमा को पार कर चुके हैं. मैं अपना काम करता हूं. मैं उनके काम और स्टेटस के बारे में नहीं सोचता। मैं उनकी सलाह नहीं लेता और ना ही वो मेरे काम में दखलअंदाजी करते हैं. रजनी सर को इम्प्रेस करने के लिए आपको सीधा और सच्चा होना जरुरी हैं.

5. क्या रजनीकांत को लेकर पूछे गए सवालों से आप परेशान होते हैं?
परेशान नहीं होता हूं लेकि रजनी सर का दामाद होना आसान बात नहीं हैं. ऐश्वर्या से शादी करने के बाद मेरी जो भी पहचान थी वो सब खत्म हो गई. में जहां भी जाता हूं लोग मुझे रजनीकांत के दामाद के रूप में पहचानते हैं. इंटरव्यू में मुझसे पहला सवाल पूछा जाता हैं कि रजनीकांत का दामाद होने के बाद कैसा लग रहा हैं.

6. आपने रजनीकांत से अलग अपनी खुद की पहचान बनाई हैं. लोग आपको आपकी सफलता की वजह से जानते हैं. क्या आपकी पत्नी को आप पर गर्व हैं या फिर वो रजनीकांत से आपकी तुलना करती हैं?
ऐश्वर्या एक फिल्म डायरेक्टर हैं. उन्हें मुझपर फक्र हैं, क्यूंकि मेरी फैन फॉलोइंग बहुत हैं. मेरी फिल्म कधल कोंडाइन’ की स्क्रीनिंग के दौरान मेरी रजनी सर की बेटियों (ऐश्वर्या, सौंदर्या) से मुलाकात हुई. दूसरे दिन ऐश्वर्या ने मुझे बुक्के भेजा उसके साथ एक कार्ड था जिसमें लिखा था, ‘अच्छा काम किया, संपर्क में रहिए’ और दो साल बाद हमारी शादी हुई.

7. अमिताभ अब्च्चन आपके ससुर के काफी अच्छे दोस्त हैं. क्या यही वजह कि जिस तरह ‘शमिताभ’ में उन्होंने आपके साथ व्यवहार किया?
मुझे नहीं पता अगर यह रजनी सर की वजह से हुआ है क्यूंकि ‘शमिताभ’ की शूटिंग के दौरान अमिताभ वो सबको कम्फर्टेबल रखते थे. स्पॉट बॉय से लेकर हर किसी से वो अच्छे से बात करते थे.

8. क्या आपने कभी रजनीकांत की सलाह ली हैं?
वो बहुत ही व्यस्त आदमी हैं. उन्होंने कभी मेरी हेल्प नहीं की और ना ही मैंने उनसे कभी कोई मदद मांगी. मेरा काम करने का तरीका अलग है. हम जब भी मिलते है काम की बात नहीं करते.