एक कॉल में लूट लिया इंडियल आइडल की कंटेस्टेंट के लाखों रुपये, देवघर में गिरफ्तार

इंडियन आइडल 10 की कंटेस्टेंट अवंती पटेल ने शिकायत दर्ज कराई थी कि उनके और उनकी बहन के खाते से 1 लाख 70 हजार रुपये गायब हो गए हैं

इंडियल आइडल की कंटेस्टेंट अवंती पटेल और उनकी बहन के बैंक अकाउंट से लाखों रुपये उड़ाने वाले तीन लोगों को मुंबई और झारखंड पुलिस ने धर दाबोचा है। अवंती पटेल खाते से ये चोरी यूनिफाइड पेमेंट इंटरफेस (UPI) के जरिए की गई थी। मुंबई ने देवघर पुलिस की मदद से देवघर के सोनारायठाड़ी तीन साइबर अपराधियों को गिरफ्तार किया गया।

इंडियन आइडल 10 की कंटेस्टेंट अवंती पटेल ने शिकायत दर्ज कराई थी कि उनके और उनकी बहन के खाते से 1 लाख 70 हजार रुपये गायब हो गए हैं। उन्होंने ने नए डेबिट कार्ड के लिए आवेदन किया था जिसे बैंक द्वारा अभी तक एक्टिवेट नहीं किया गया था। इसी बीच उनके नंबर पर पंकज शर्मा नाम के एक शख्स ने कॉल किया और खुद को बैंक का कर्मचारी बताया।

कॉल करने वाले शख्स ने उनसे उनके बैंक से जुडी कुछ जनकारी मानगी और अवंती ने उसे अपने बैंक अकाउंट के बारे में पूरी जानकारी दे दी। उन्होंने उसे अपने पुराने डेबिट कार्ड के सीवीवी नंबर समेत सभी जानकारी दे दी। इसके बाद उनके नंबर पर फिर से कॉल आया और ओटीपी बताने के लिए कहा गया और यहीं से खेल शुरू हुआ।

ओटीपी बताने के साथ ही उनके नंबर पर दूसरा मैसेज आया जिसे देखकर उनका होश उड़ गया। मैसेज में अकाउंट से 50 हजार रुपये कटने की जानकारी थी। इसके बाद तीन बार में कुल 1।50 लाख रुपये उनके अकाउंट से गायब हो गए। गौर करने वाली बात यह है कि उस व्यक्ति ने अवंती को फिर से फोन किया।

पंकज ने अवंती को फिर से फोन किया और कहा कि चिंता करने की कोई बात नहीं है। पूरे पैसे उनके अकाउंट में फिर से आ जाएंगे। इसके बाद पंकज ने अवंती से गारंटर के तौर पर उनकी बहन के बैंक अकाउंट की पूरी जानकारी मांगी और बहन के अकाउंट से भी 50,000 रुपये उड़ा लिए। पंकज ने अवंती को फिर से फोन किया और कहा कि चिंता करने की कोई बात नहीं है।

पूरे पैसे उनके अकाउंट में फिर से आ जाएंगे। इसके बाद पंकज ने अवंती से गारंटर के तौर पर उनकी बहन के बैंक अकाउंट की पूरी जानकारी मांगी और बहन के अकाउंट से भी 50,000 रुपये उड़ा लिए।

इस पूरी धोखाधड़ी कि शिकायत अवंति पटेल ने सायन थाने में कराई थी। जिसकी छानबीन में साइबर अपराधियों का लोकेशन देवघर में डिटेक्ट हुआ। उसी आधार पर मुंबई पुलिस की एक टीम देवघर पहुंची। फिर देवघर पुलिस की मदद से छापेमारी कर तीनों अपराधियों को सोनारायठाड़ी थाना क्षेत्र में अलग- अलग जगहों से गिरफ्तार किया। गिरफ्तार अपराधियों के पास से पुलिस ने 15 मोबाइल, 4 पासबुक और एक एटीएम कार्ड जब्त किये गये।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here