हॉरर फिल्मों के राजा कहे जाने वाले डायरेक्टर श्याम रामसे का 67 वर्ष की उम्र में हुआ निधन

By  
on  

हॉरर फिल्मों के राजा माने जाने वाले फिल्ममेकर श्याम रामसे का 67 वर्ष की उम्र में, निमोनिया की बीमारी के कारण आज 18 सितम्बर की सुबह उनका निधन हो गया है.श्याम रामसे इंडस्ट्री में डरावनी फिल्मों के लिए जाने जाते हैं. 1970 के दशक में, रामसे ब्रदर्स ने कम बजट की फिल्में बनाकर हॉरर शैली पर अपनी धाक जमाई थी. 

 

17 मई, 1952 को जन्मे श्याम, उस दौर में हॉरर और इरॉटिक फिल्में बनाते थे. उन्होंने 'पुराना मंदिर', 'पुरानी हवेली' 'अंधेरा' और 'बंद दरवाजा' जैसी कई फिल्मों का निर्देशन किया है. उन्हें टीवी सीरीज 'Zee Horror Show' के लिए भी जाना जाता था. श्याम ने अपने भाई तुलसी के साथ मिलकर भी काम किया था. बताते चले कि उनके भाई तुलसी रामसे का भी पिछले साल दिसंबर महीने में निधन हो गया था. 77 वर्षीय फिल्म निर्माता तुलसी ने सीने में दर्द की शिकायत की थी, हालांकि जब उन्हें अस्पताल ले जाया गया, तब तक उन्हें मृत घोषित कर दिया गया था.

श्याम इंडस्ट्री में रामसे ब्रदर्स के नाम से मशहूर थे. वह सात रामसे भाईयों में से एक थे, जो अपने पिता फतेहचंद रामसिंघानी के साथ विभाजन के बाद कराची से मुंबई चले आए थे. मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार श्याम रामसे का अंतिम संस्कार विले पार्ले को श्मशान में 18 सितम्बर की दोपहर को हो होगा.

(Source: Twitter\ Times of India)

Recommended

Loading...
Share