'स्वरागिनी' फेम नुपुर अलंकार ने मां के निधन के बाद ली थी तीन महीने मौन रहने की कसम, आर्थिक परेशानी को लेकर बयां किया दर्द

By  
on  

जब कोरोना में पूरी फिल्म और टीवी इंडस्ट्री ठप्प पड़ी थी तब बॉलिवुडऔर टीवी ऐक्ट्रेस रेणुका शहाणे ने अपनी ऐक्ट्रेस दोस्त नुपुर अंलकार के आर्थिक तंगी से जूझने की बात सोशल मीडिया पर शेयर की थी. रेणुका ने लोगों से नुपुर की मदद की गुहार लगाई थी. 'दीया और बाती हम', 'घर की लक्ष्मी बेटियां', और 'स्वरागिनी' फेमस शोज का हिस्सा रह चुकीं एक्ट्रेस नुपुर अलंकार पिछले लंबे समय से आर्थिक परेशानी का सामना कर रही हैं. पिछले साल उन्होंने अपनी मां के इलाज के लिए क्राउडफंडिंग के जरिए पैसा इकट्ठा किया था. वहीं हाल ही में नुपुर ने मां के निधन के बाद तीन महीने मौन रहने की कसम से लेकर अपनी आर्थिक परेशानी को लेकर दर्द बयां किया है.

एक लीडिंग वेबसाइट से बात करते हुए नुपुर को लेकर यह जानकारी सामने आई है कि तीन महीने पहले 03 दिसंबर, 2020 को उनकी मां का निधन हो गया था. नुपुर से इस बारे में कहा कि, 'एक समय था जब मां की दवाईयां खरीदने के लिए मेरे पास 500 रुपये भी नहीं थे और तब मैंने क्राउडफंडिंग प्लेटफॉर्म पर उनकी जानकारी शेयर की जहां से मुझे तुरंत मदद मिली. इस परेशानी के समय में मेरी फील्ड के लोग मदद के लिए आगे आए. मैं दिसंबर, 2019 से घर पर ही थी. मुझे अपनी मां के साथ रहना था और मैं काम शुरू नहीं कर सकती थी.'

अपनी आर्थिक परेशानी को लेकर बोलीं टीवी एक्ट्रेस नूपुर अलंकार, कहा- 'मेरी माँ के इलाज के लिए मुझे लोगों से पैसे मांगने में कोई शर्म नहीं आई'


नुपुर की ने आगे बताया कि मां के निधन ने उन्हें पूरी तरह हिला कर रख दिया. खुद को इस दुख से बाहर लाने के लिए एक्ट्रेस ने तीन महीने चुप रहने का फैसला किया. एक्ट्रेस ने कहा, 'मां ने मेरी गोद में आखिरी सांस ली. उस दौरान मैंने महसूस किया कि बेबसी किसे कहते हैं. मैंने अकेले उनका अंतिम संस्कार किया क्योंकि यह उनकी आखिरी इच्छा थी. मैंने तीन महीने तक मौन धारण कर लिया क्योंकि मुझे ठीक होने के लिए.'


(Source: TOI)

Recommended

Loading...
Share