कोर्ट में राज कुंद्रा के वकील का बयान, ' कंटेंट वल्गर था, लेकिन उसे अश्लील नहीं कह सकते'

By  
on  

अश्लील फिल्में बनाने और उन्हें डिजिटली दिखाने के आरोप में 19 जुलाई की रात को राज कुंद्रा को गिरफ्तार करने के बाद अगली सुबह उन्हें कोर्ट में पेश किया गया, इसके बाद कोर्ट ने उन्हें 23 जुलाई तक पुलिस रिमांड पर भेज दिया. राज की गिरफ्तारी के बाद पूरी इंडस्ट्री में खलबली मच गयी है. 

टाइम्स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के मुताबिक, मंगलवार को राज के वकील ने कोर्ट में कहा कि कंटेंट को पोर्नोग्राफी कहना सही नहीं है. इस रिमांड में कुछ भी ऐसा नहीं दिखा है कि दोनों शख्स राज और रयान पोर्नोग्राफिक कंटेंट बना रहे थे. कंटेंट वल्गर था, लेकिन उसे अश्लील नहीं कह सकते.

राज की गिरफ्तारी पर वकील ने आगे कहा, ‘गिरफ्तारी तब होनी थी जब उसके बिना जांच आगे नहीं हो सकती थी, लेकिन इस केस में गिरफ्तारी के बाद उनसे इन्वेस्टिगेशन की गई.’ राज के वकील ने ये भी कहा कि उनकी गिरफ्तारी कानून के हिसाब से नहीं हुई है.’

 

टाइम्स नाउ की रिपोर्ट के मुताबिक, राज की गिरफ्तारी के बाद मुंबई पुलिस को कुछ ऐसे एविडेंस मिले हैं जिससे ऐसा पता चल रहा है कि राज आने वाले समय में अश्लील कंटेंट की लाइव स्ट्रीमिंग करने का प्लान कर रहे थे. रिपोर्ट्स के मुताबिक ये बात भी सामने आई है कि राज एडल्ट बिजनेस को बॉलीवुड इंडस्ट्री की तरह बड़ा बनाना चाहते थे.

Recommended

Loading...
Share