किसी महल से कम नहीं नवाजुद्दीन सिद्दीकी का 'नवाब' मुंबई में बनाया महल जैसा बंगला, तीन साल के अंदर हुआ तैयार 

By  
on  

बॉलीवुड एक्टर नवाजुद्दीन ने जो सपना देखा था आखिर उसे पूरा कर लिया है। नवाज़ ने मुंबई में अपना सपनो का आलिशान आशियाना बनाया है। इस अशियाना के एक एक ईंट को खुद नवाज़ ने चुना है और इसे पूरा करने में तीन साल बीत गए। नवाज़ ने अपने सपनों के महल का नाम अपने वालिद यानी पिता के नाम पर  'नवाब' रखा है। अब नवाज़ के इस आलिशान बंगले कि तस्वीरें सोशल मीडिया पर वायरल हो रही हैं। कहा जा रहा है कि नवाजुद्दीन ने अपने पहले वाले घर से इंस्पायर्ड हो कर इस घर को बनवाया है।

नवाज़ुद्दीन के करीबियों के मुताबिक नवाज़ ने कुछ साल पहले यह बंगला खरीदा था, जिसे रेनोवेट करने में करीब 3 साल का वक्त लगा है। नवाजुद्दीन का यह नया घर उनके गांव बुढ़ाना वाले घर से इंस्पायर्ड है। नवाजुद्दीन ने अपने घर का नाम पिता के नाम पर नवाबुद्दीन सिद्दीकी के नाम पर 'नवाब' रखा है। घर को पूरी तरह सफ़ेद मार्बल से बनवाया गया है। बताया जा रहा है दो मंज़िला इस बंगले में नवाज़ का दफ्तर भी होगा।  घर में कुल आठ कमरे हैं। घर में एक लैविश बरामदा, सफेद बाहरी भाग और एक विशाल छत है। 

लंबे समय तक काम करने के बाद भी नवाज लाइमलाइट से दूर रहना पसंद करते हैं। इसके पीछे का कारण खुद एक्टर ने एक इंटरव्यू में बताया था। उन्होंने कहा था कि उन्हें स्टारडम और ग्लैमर की दुनिया पसंद नहीं है। फिल्म इंडस्ट्री के इवेंट्स या पार्टियों में जाने से ज्यादा उन्हें आम लोगों के बीच रहना पसंद है।

अपने स्ट्रगल के दिनों को याद करते हुए नवाज ने बताया था कि वह एक पेट्रोकेमिकल कारखाने में काम करते थे। जहां उन्हें महीने के दो हजार रुपये मिला करते थे। उनकी मां ने उनकी पढ़ाई के लिए अपने गहने गिरवी रखे थे। जिन्हें वापस लाने के लिए उन्होंने अपने दो महीने की सैलरी जमा की थी। इसके बाद वो 4000 रुपये लेकर अपने गांव गए थे और पैसों का भुगतान करने के बाद उन्होंने अपनी मां के गहने वापस लिए थे।

Recommended

Loading...
Share