रीता माँ को बच्चों के साथ देखकर भावुक हुए सिद्धार्थ शुक्ला के फैंस, उनकी तस्वीरें पोस्ट कर बोले- इस माँ को स्ट्रॉन्ग रखना 

By  
on  

सिद्धार्थ शुक्ला की आक्समिक निधन उनके परिवार पर आसमान गिरने जैसा था। सिद्धार्थ अपनी माँ के बेहद करीब थे और उनकी मौत का सबसे ज़्यादा असर उन पर ही पड़ा है। लेकिन हमेशा से ही सिद्धार्थ की माँ ने बेटे की मौत के बाद काफी धैर्य दिखाया था। सिद्धार्थ शुक्ला भी अक्सर अपने इंटरव्यू में मां रीता शुक्ला के बारे में बात करते थे। कई बार सिद्धार्थ ने बताया था, 'लोग मुझे एक बाहरी तौर पर रूड व्यक्ति के रूप में जानते हैं। लेकिन मैं हमेशा अपनी मां के लिए पिघलता हूं। जब से मैं पैदा हुआ, वह मेरे जीवन में सबसे महत्वपूर्ण व्यक्ति रही है। मैं 3 बच्चों में सबसे छोटा था और अपनी बहनों के साथ खेलने के लिए बहुत छोटा था, इसलिए मैं हमेशा मां के आसपास रहता था। जब मैं एक बच्चा था, तो मैं रोता था उनके बिना एक सेकंड नहीं रहता था। इसलिए रोटियां बनाते समय भी, वह मुझे एक हाथ से पकड़ती थीं और दूसरे हाथ से अपना काम करती थीं।'

इससे पता चलता है की सिद्धार्थ अपनी माँ के कितने करीब थे। कल अचानक उनकी माँ रीता शुक्ला ट्विटर पर ट्रेंड करने लगी। वजह भी बेहद ख़ास थी। 
दरअसल सिद्धार्थ की मां ब्रह्मकुमारीज से जुड़ी हैं। उनकी बच्चों के साथ समर कैंप की कुछ तस्वीरें सोशल मीडिया पर वायरल हुईं। सिद्धार्थ शुक्ला के फैन्स तस्वीरें पोस्ट करके खुश हो रहे हैं। लोग उन्हें रीता मां बोलते हैं और कई लोगों ने लिखा है कि सुकून मिलता है जब मां खुश होती हैं। तस्वीरों में वह बच्चों से बातें करती और चॉकलेट बांटती भी दिख रही हैं।

सिद्धार्थ के फैंस ने उनकी माँ से एक ख़ास रिश्ता जोड़ लिया वो उन्हें रीता मां कहते हैं। साथ ही उनके सपोर्ट में अक्सर पोस्ट सोशल मीडिया पर दिखते रहते हैं। हाल ही में सिद्धार्थ की मां ब्रह्मकुमारीज के समर कैंप में थीं। उनकी तस्वीरें सामने आते ही  #RitaMaa हैशटैग ट्रेंड करने लगा। कई लोगों ने उनकी तस्वीरें शेयर की हैं।

सिद्धार्थ शुक्ला के फैन क्लब ने फोटो शेयर करके लिखा है, मां, दिल में सुकून मिलत है जब मां खुश होती हैं। एक और ने लिखा है, जब रीता मां ने पति खोया तो अपनी एनर्जी को डबल करके सारा फोकस सिद्धार्थ पर लगा लिया अब उनकी जर्नी बच्चों के लिए है, खुद को बिजी रख रही हैं। लोगों ने उनको सबसे स्ट्रॉन्ग और दयालु मां भी लिखा है।
 

Recommended

Loading...
Share