‘व‍िश्‍वरूप 2’ एक मसाला फ‍िल्‍म नहीं है, मसाला सेहत के ल‍िए खराब होता है: कमल हासन

सुपर स्टार कमल हासन ने पॉल‍िटिक्‍स और आने वाले प्रोजेक्‍ट्स के बारे में क‍िया खुलासा...

फिल्म ‘व‍िश्‍वरूप 2’ 10 अगस्त को देशभर के सिनेमाघरों में रिलीज के लिए तैयार है. फिल्म में शेखर कपूर, राहुल बोस, पूजा कुमार, जयदीप अहलावत, वहीदा रहमान और अनंत महादेवन अहम् भूमिकाओं में नजर आएंगे. इस फिल्म का निर्देशन, लेखन और निर्माण खुद कमल हासन ने किया है. फ‍िल्‍म के बारे में कमल हासन ने की खास बातचीत:

सवाल: आपकी फ‍िल्‍म ‘व‍िश्‍वरूप 2’ अक्षय की ‘गोल्‍ड’ और जॉन की ‘सत्‍यमेव जयते’ से 5 द‍िन पहले र‍िलीज हो रही है, दोनों फ‍िल्‍म देशभक्‍ति के फ्लेवर की हैं और स्‍वतंत्रता दि‍वस पर आएंगी, क्या आपको एक बेहतर दिन नहीं मिल सका?
जवाब: आप बताइए, बेहतर द‍िन क्‍या होता है? 1981 में जून के महीने में जब मेरी ह‍िंदी डेब्‍यू फ‍िल्‍म ‘एक दूजे के ल‍िए’ आई थी तो बॉलीवुड ने कहा हम लोग गलती कर रहे हैं. हम मानसून में फ‍िल्‍म लेकर आ रहे हैं. हमारी फ‍िल्‍म नई है. फ‍िलहाल इस वक्‍त कोई फ‍िल्‍म र‍िलीज नहीं हो रही है. हम मानते हैं क‍ि ये फायदे का सौदा होगा. डायरेटर के.बालाचंद्र ने कहा, ‘कोई बात नहीं, हम अभी ही र‍िलीज करेंगे.’ प्रोड्यूसर एल.वी प्रसाद ने कहा, ‘हम उतना पैसा कमा लेंगे जितना हमने लगाया है, तो हर वक्‍त बढ़‍िया होता है.’

सवाल: तो आपको ‘विश्‍वरूप 2’ के बॉक्‍स ऑफ‍िस का डर नहीं है?
जवाब: बिल्‍कुल डर नहीं है. मैं ‘व‍िश्‍वरूप 2’ को लेकर बहुत कॉन्‍फ‍िडेंट हूं. ये फ‍िल्‍म एकदम अलग है और मुझे इस पर गर्व है. मैं फ‍िल्‍मों का शौकीन इंसान हूं, फ‍िल्‍मों में पैसा लगाता हूं. मैं इससे पैसे कमाता हूं. अगर मैं अपना पैसा कमाता हूं, तो यह एक बोनस है. अगर मैं इसे खो देता हूं, इससे कोई फर्क नहीं पड़ता. लोग सोच सकते हैं कि मैं एक बुरा बिजनेसमैन हूं. लेकिन मैं एक बहुत सफल बिजनेसमैन रहा हूं. मेरी कंपनी राज कमल फिल्म्स इंटरनेशनल अभी भी चल रही है. हाल ही में 30 वां साल मनाया गया था.

सवाल: आप कहते हैं कि ‘विश्वरूप 2’ एक कहानी है जिसे बताया जाना है ?
जवाब: सभी कहानियों को बताया जाना चाहिए और यही कारण है कि फिल्मों को बनाया जाता है. ‘विश्वरूप 2’ एक जियोपॉलिट‍िकल जासूसी थ्रिलर है. यह दुनिया की स्थिति के बारे में चिंताओं की तरह है और भारत इसके बारे में चिंतित है. भारत नायक है. इस कहानी को लोगों को बताने की जरूरत है, उन्हें चेतावनी देने के लिए, समय की सामूहिक भावना के मौसम पूर्वानुमान की तरह.

सवाल: प्रीक्वेल को अच्छी समीक्षा मिली थी, यहां तक कि एल के आडवाणी ने कहा कि यह उन बेहतरीन फिल्मों में से एक थी जिन्हें उन्होंने देखा था. ‘विश्वरूप 2’ के लिए आप किस तरह की नंबर्स की उम्मीद कर रहे हैं?
जवाब: आडवाणी जी सिनेमा की सराहना करते हैं, वह पहले एक पत्रकार थे. मेरा विश्वास करो ‘विश्वरूपम 2’ प्रीक्वेल से ज्‍यादा या कम नहीं होगा. मैं बहुत कॉन्‍फिडेंट हूं. ‘विश्वरूपम 2’ एक स्टैंडअलोन फिल्म है. इसे समझने के लिए आपको पहले भाग को देखने की जरूरत नहीं है. हम इसकी ब्रैगिंग कर रहे हैं क्योंकि हम चाहते हैं कि जो मैसेज हम देना चाह रहे हैं वो मैसेज पहुंचे. हमने एक अच्छी नौकरी की है, हम अपने माल बेच रहे हैं, यह एक अच्छा उत्पाद है, और हमें पूरा यकीन है कि कोई भी परीक्षण जिसे आपने इसे अच्छे सिनेमा के गुणक के रूप में रखा है- यह सफल हो जाएगा.

सवाल: आप अब पॉलिट‍िक्‍स में आ गए हैं, तो ‘व‍िश्‍वरूपम 2’ क्‍या आख‍िरी फ‍िल्‍म होगी?
जवाब: मैं ऐसा नहीं कह सकता क‍ि ये आख‍िरी फ‍िल्‍म है. लेकिन आखिरी से पहली.

सवाल: 63 की उम्र में भी आप ऐसे एक्‍शन खुद ही कर रहे हैं. फिल्म उद्योग में आपकी दो युवा बेटियां भी हैं. उनका क्या कहना है?
जवाब: ओह, वो मुझसे बहुत नाराज हो जाती हैं.

LEAVE A REPLY

avatar