कोरोना वायरस ने ली फिल्ममेकर गुरिंदर चड्ढा की बुआ की जान, बताया- 'अंतिम क्षणों में कोई नहीं था साथ'

By  
on  

कोरोनावा यरस का कहर लगातार बढ़ता जा रहा है. इससे मरने वालों की लिस्ट रूकने का नाम नहीं ले रही है, हाल ही मे 'बेंड इट लाइक बेकहम' की डायरेक्टर गुरिंदर चड्ढा की बुआ का कोरोना वायरस से इंग्लैंड में निधन हो गया. गुरिंदर चड्ढा ने एक पोस्ट के जरिए इसकी जानकारी दी गुरिंदर चड्ढा ने बताया कि उनके आखिरी समय में उनके परिवार का कोई सदस्य वहां नहीं था. यहां तक कि उनके बच्चों ने भी वीडियो कॉल के जरिए उनके लिए प्रार्थना की.

गुरिंदर ने लिखा है,'आज(रविवार को) कोविड-19 कॉम्प्लिकेशंस के चलते हमने मेरी बुआजी/आंटी को खो दिया. वे मेरे पिताजी की छोटी बहन थीं. वे भारत-पाकिस्तान के विभाजन के समय सर्वाइव कर गई थीं और यह हमारे लिए बेहद दुख की बात है कि उनके अंतिम क्षणों में परिवार का कोई भी सदस्य उनके साथ नहीं था. अस्पताल की दो नर्सें उनके साथ थीं जिन्होंने सिखों से जुड़ी प्रार्थनाएं की जिससे उनकी आत्मा को शांति मिले.' गुरिंदर ने इंग्लैंड के अस्पताल और मेडिकल स्टाफ का भी शुक्रिया कहा.  

Recommended Read: प्रोड्यूसर करीम मोरानी ने कोरोना को दी मात, अस्पताल से किया गया डिस्चार्ज

बता दें, 60 साल की गुरिंदर चड्ढा की ज्यादातर फिल्मों में इंग्लैंड में रह रहे भारतीयों की कहानी को दर्शाया जाता है. इनमें सामाजिक और सांस्कृतिक मुद्दों को उठाया जाता है. वे ब्रिटिश कॉमेडी फिल्म 'भाजी ऑन द बीच'(1993) से निर्देशन में आई थीं. उन्होंने ब्रिटिश अमेरिकन ड्रामा 'व्हाट्स कुकिंग', ब्रिटिश कॉमेडी ड्रामा 'इट्स वंडरफुल आफ्टरलाइफ' और ब्रिटिश हिस्टोरिकल ड्रामा 'विक्ट्री हाउस' जैसी फिल्में बनाई हैं. वे 'बीचम हाउस' जैसी सीरीज का निर्देशन और निर्माण भी किया है. उन्होंने 'बेंड इट लाइक बेकहम' और 'ब्राइड एंड प्रेजुडिस' जैसी फिल्मों का निर्देशन किया है.

(Source: Instagram)

Recommended

Loading...
Share