अभिनेता रसिक दवे का मुंबई में निधन, पत्नी केतकी दवे हिंदी और गुजराती सिनेमा की बड़ी एक्टर हैं - किडनी की बीमारी का इलाज चल रहा था।

By  
on  

गुजरते और हिंदी सिनेमा के जाने माने नाम एक्टर रसिक दवे का बीती रात निधन हो गया। उन्होंने मुंबई में ही अपनी आखिरी सांस ली। रसिक दवे को महाभारत के कैरेक्टर ‘नंदा’ के लिए जाना जाता था। हालांकि, उन्होंने इसके अलावा कई सारे गुजराती नाटकों, गुजराती फिल्मों और कई सारे सीरियल्स में भी काम किया था। पारिवारिक सूत्रों के मुअतबिक रसिक कई महीनों से किडनी के बीमारी से जूझ रहे थे। उनकी पत्नी केतकी दवे भी टीवी और फिल्म इंडस्ट्री का जाना माना नाम हैं। केतकी दवे ने ‘क्योंकि सास भी कभी बहू थी’ और ‘बालिका बधू 2’ से अपनी पहचान बनाई थी। 

जानकारी के मुताबिक एक्टर रसिक दवे का किडनी फेल होने चलते निधन हो गया है। आखिरी बार रसिक ने पत्नी के साथ ‘नच बलिए 2’ में भी हिस्सा लिया था। वह 65 साल के थे। वह पिछले दो साल से डायलिसिस पर थे। किडनी लगातार खराब होती रही और पिछला एक महीना बेहद दर्दनाक रहा। उन्होंने शुक्रवार (29 जुलाई) रात 8 बजे अंतिम सास ली. रसिक के परिवार में उनकी पत्नी, बेटा और बेटी हैं। 

रसिक दवे (Rasik Dave Career) ने अपने करियर की शुरुआत 1982 में एक गुजराती फिल्म ‘पुत्र वधू’ से की और गुजराती और हिंदी दोनों माध्यमों में काम किया। केतकी और रसिक ने 2006 में ‘नच बलिए’ में भी भाग लिया था।  रसिक ‘संस्कार – धरोहर अपनों की’ में करसंदास धनसुखलाल वैष्णव की भूमिका निभाई थी। उन्होंने टीवी के एपिक शो महाभारत में नंद की भूमिका निभाई थी, जिसका प्रसारण 1980 के दशक में शुरू हुआ था। 
 

Recommended

Loading...
Share