Exclusive: बॉलीवुड के मशहूर विलेन महेश आनंद का निधन, 'रंगीला राजा' में आए थे नजर

By  
on  

बॉलीवुड के मशहूर अभिनेता महेश आनंद का आज निधन हो गया है. बड़े पर्दे पर पर ये आखिरी बार  फिल्म ‘रंगीला राजा’ में नज़र आए थे. उस फिल्म में मुख्य किरदार के रूप में गोविंदा ने अभिनय किया था. इनको बड़े पर्दे पर इनकी खलनायिकी के लिए हमेशा याद किया जाता है.

महेश का शव मुंबई में उनके अँधेरी,यारी रोड स्थित किनारा बिल्डिंग में 9 फरवरी को मिला है.वह 57 साल के थे.पीआरओ वसीम सिद्दीकी को महेश की मौत की खबर सूत्रों से पता चली जिसके बाद वह कूपर हॉस्पिटल गए जहां डॉक्टर लक्ष्मीकांत से बात की.इसी हॉस्पिटल में महेश की डेड बॉडी को ले जाया गया था.

महेश की भतीजी ज्योति गुप्ता और उनकी एक दोस्त को मालूम चला कि महेश की मौत 30 घंटे पहले ही हो चुकी थी.दो दिन से टिफिन उनके घर के अन्दर नहीं लिया गया था,ऐसे में बिल्डिंग के रहवासियों ने पुलिस को जानकारी दी.फायर ब्रिगेड ने आकर दरवाजा खोला तो शव को सड़ी-गली अवस्था में पाया.

इसके बाद पुलिस ने महेश की बहनों को जानकारी दी.शाम 4.30 बजे शव को कूपर हॉस्पिटल ले जाया गया और पंचनामा पूरा किया गया.10 फरवरी को सुबह 10 बजे पोस्टमार्टम के बाद शव को अंतिम संस्कार के लिए फैमिली को सौंप दिया जाएगा.

जब इस मामले में पीपिंगमून.कॉम ने महेश आनंद की पूर्व पत्नी उषा बच्चानी से बात की तो उन्होंने कहा कि “मेरी उनसे सन 2002 के बाद से कोई बातचीत नही हुई है”.

बॉलीवुड एक्‍टर आद‍ित्‍य पंचोली ने बताया, 'बहुत दुखद, मेरे भाई जैसे थे, पहली फ‍िल्‍म मैंने इन्‍हीं के साथ की थी. बीते एक साल पहले मेरी इनसे मुलाकात हुई थी.

महेश आनंद ने बॉलीवुड में अदाकारी की शुरुआत 1980 के दौर में की, इन्होने मेनस्ट्रीम हिंदी सिनेमा में 1980 से 1990 के दौर में कई सफल फिल्मों में काम किया. बड़े पर्दे पर इस जानदार अभिनेता को एक खलनायक के तौर पर याद किया जायेगा. महेश आनंद ने अपनी अधिकतर फिल्मों में बैडमेन का किरदार निभाया है.

इनको फिल्म शहंशाह, मजबूर, स्वर्ग, थानेदार, विश्वात्मा,गुमराह, बेताज बादशाह, विजेता में अपने शानदार अभिनय के लिए हमेशा याद किया जाएगा. वहीं साल 2000 में फिल्म ‘कुरुक्षेत्र’ में अभिनय के बाद इस अभिनेता ने फिल्मी दुनिया से काफी सालों के लिए एक दूरी सी बना ली थी.

एक लीडिंग डेली से बात करते हुए उन्होंने कहा भी था कि ‘करीब 18 सालों से मेरे पास फिल्मे नही हैं,इसलिए मैं अभिनय से दूर हूं.’ फिर उन्होंने करीब 20 साल बाद हिंदी सिनेमा में फिल्म ‘रंगीला राजा’ से वापसी की, इस फिल्म को प्रोड्यूस पहलाज निहलानी ने किया था.

पहलाज निहलानी के लिए अपना धन्यवाद प्रकट करते हुए महेश आनंद ने कहा था कि ‘पिछले 18 सालों से किसी ने मुझे काम नही दिया, लेकिन फिर भगवान खुद एक इंसान के रूप में आए और मुझे रंगीला राजा में एक छोटा सा रोल ऑफर किया .'

आज बॉलीवुड ने इस सदाबहार अदाकार को खो दिया है, पर इनकी अदाकारी लोगों के दिलों में हमेशा जिंदा रहेगी.

 

Recommended

Loading...
Share