अर्जुन रामपाल ने NCB की जांच से से बचने के लिए बैकडेट प्रिस्क्रिप्शन का किया इस्तेमाल ?

By  
on  

बॉलीवुड ड्रग्स कनेक्शन मामले में एक्टर अर्जुन रामपाल ने सोमवार 21 दिसंबर को नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (एनसीबी) ऑफिस में पेश हुए. वहीं खबर है कि अर्जुन रामपाल ने NCB की जांच से बचने के लिए बैकडेट प्रिस्क्रिप्शन का इस्तेमाल किया था. वहीं खबर ये भी है कि अब इसके बाद अर्जुन रामपाल की मुश्किलें और बढ़ने वाली है. वहीं पूरे मामले में एनसीबी ने दिल्ली के एक डॉक्टर का भी बयान लिया है. डॉक्टर का बयान एनसीबी ने अदालत में IPC 164 के तहत मजिस्ट्रेट के सामने भी दर्ज करवाया है. 

सुत्रों के मुताबिक खबर है कि अर्जुन रामपाल ने NCB की गिरफ्तारी से बचने के लिए बैकडेट प्रिस्क्रिप्शन का इस्तेमाल किया था. सूत्र की मानें तो अर्जुन रामपाल के एक रिश्तेदार ने दिल्ली बेस्ड एक डॉक्टर को गुमराह करके बैक डेट में डॉक्टर से प्रिस्क्रिप्शन लिखवाए ताकि एनसीबी की जांच से बचा जा सके.

Recommended Read: ड्रग केस में दोबारा एनसीबी ऑफिस पहुंचे अभिनेता अर्जुन रामपाल, देखें फोटोज 


वहीं खबर है कि जिस दवा का प्रिस्क्रिप्शन अर्जुन रामपाल के रिश्तेदार ने लिखवाया था वो प्रिस्क्रिप्शन एनसीबी के सामने अर्जुन रामपाल की तरफ से रखा गया था. एसनीबी को शक होने पर डॉक्टर से पूछताछ की गई और फिर बयान रिकॉर्ड किया गया. दरअसल अर्जुन रामपाल के घर छापेमारी के दौरान एक मेडिसिन 'क्लोन्ज़ापम' बरामद हुई थी जो NDPS एक्ट में तहत आती है. वो दवा NDPS एक्ट के शेड्यूल एच (H)में आती है जिसके लिए डॉक्टर के प्रिस्क्रिप्शन की जरूरत होती है.
वहीं अटकलें ये लगाई जा रही है कि इस पूरे मामले में अर्जुन की गिरफ्तारी हो सकती है. 
बता दें इससे पहले अर्जुन रामपाल के घर 9 नवंबर को छापेमारी की गई थी. इस छापेमारी में उनके घर से ट्रैमाडॉल टैब्लेट्स बरामद की गई थी. इसके बाद अर्जुन की लिव इन पार्टनर गैब्रिएला डिमिट्र‍िएड्स से दो बार पूछताछ की गई थी, वहीं अर्जुन 13 नवंबर को एनसीबी के सामने पहली बार पेश हुए थे. ड्रग्स केस के दो मामलों में एनसीबी ने गैब्रिएला के भाई Agisialis Demetriades को पहले ही गिरफ्तार किया था. हाल ही में उन्हें जमानत पर छोड़ा गया है. 

Recommended

Loading...
Share