मीरा चोपड़ा पर फ्रंटलाइन कार्यकर्ता के रूप में टीके की पहली खुराक प्राप्त करने के लिए दर्ज हुई शिकायत

By  
on  

भाजपा की ठाणे यूनिट के अध्यक्ष और एमएलसी निरंजन दावखरे ने शनिवार को आरोप लगाया कि मॉडल और एक्ट्रेस मीरा चोपड़ा को फ्रंटलाइन वर्कर के रूप में दिखाकर टीकाकरण कराया गया है. 

भाजपा नेता मनोहर डुम्ब्रे ने दावा किया कि चोपड़ा को तमिल फिल्मों में नीला के नाम से जाना जाता है और जिन्होंने तेलुगु और हिंदी फिल्मों में काम किया है, उन्होंने हाल ही में पार्किंग प्लाजा में अपनी पहली कोविड डोज ली है. एक्ट्रेस ने सोशल मीडिया पर अपने टीकाकरण की एक तस्वीर पोस्ट की है, लेकिन मामले को तूल पकड़ता देख उन्होंने उसे हटा दिया है. 

(यह भी पढ़ें: दुर्घटना में पसली में क्रैक आने पर निक जोनस को आई थी पत्नी प्रियंका चोपड़ा की याद, भाई केविन जोनस को कही थी फ़ोन लगाने की बात)

दावखरे ने कहा कि एजेंसी ओम साई आरोग्य केयर प्राइवेट लिमिटेड ने एक्ट्रेस को अपना कर्मचारी और पर्यवेक्षक दिखाया है. उन्होंने कहा है कि वह जानना चाहते हैं कि क्या उन्होंने एजेंसी द्वारा नियोजित किया गया था, या उन्होंने सिर्फ कोविड डोज लेने के लिए कार्ड दिया गया था.

दावखरे के मुताबिक, एजेंसी द्वारा जारी पहचान पत्र, जो ठाणे नागरिक निकाय के कोविड केंद्रों का प्रबंधन करता है, में पर्यवेक्षक के रूप में उनकी तस्वीर है.उन्होंने पत्रकारों से कहा कि पार्किंग प्लाजा टीकाकरण अभियान का प्रबंधन करने वाली एजेंसी अनियमितताएं कर रही है और कई शिकायतें हैं, जिनकी जांच की जरूरत है. उन्होंने कहा कि एजेंसी के कर्मचारी पूर्व में केंद्र से दवाओं की तस्करी करते हुए पकड़े जा चुके हैं. टीएमसी के जनसंपर्क अधिकारी संदीप मालवी ने कहा कि वे मामले को देखेंगे.

Recommended

Loading...
Share