पुलवामा अटैक पर बोलीं कंगना रनोट, कहा-'पाकिस्तान का विनाश चाहिए'

By  
on  

14 फरवरी 2019 को हुए पुलवामा हमले के बाद पूरा देश शोक में डूबा हुआ है और आमिर खान, सलमान खान, शाहरुख खान से लेकर प्रियंका चोपड़ा, आलिया भट्ट तक कई बॉलीवुड हस्तियों ने सोशल मीडिया पर इस भयावह कार्य की निंदा की. वेटेरन सेलिब्रिटी शबाना आजमी और जावेद अख्तर ने भी कराची में होने वाले एक कार्यक्रम में जाने से इंकार कर दिया. कंगना रनोट, जो 'मणिकर्णिका: द क्वीन ऑफ झांसी' की सफलता के लिए एक पार्टी होस्ट करने वाली थीं, उन्होंने शहीदों के लिए एकजुटता में इस कार्यक्रम को रद्द कर दिया.

हाल ही में एक इंटरव्यू के दौरान कंगना ने हमले की आलोचना करते हुए इसके बारे में बात की. उन्होंने कहा, 'पाकिस्तान ने न सिर्फ राष्ट्रीय सुरक्षा पर हमला किया है, उसने हमारी खुलेआम धमकियों और हमलों से हमारी गरिमा को भी तार-तार किया है. हमारी खामोशी को गलत समझा गया, हमें इसके खिलाफ सख्त कार्रवाई करनी होगी. आज भारत का खून बह रहा है. हमारे जवानों को मार दिया गया. अब जो भी शांति और अहिंसा की बात करेगा उस पर कालिख पोतकर, गधे पर बैठाकर चौराहे पर खड़ा कर देना चाहिए ताकि जो भी आए थप्पड़ मारकर जाए.'

कंगना रनोट ने आगे कहा, 'शबाना आजमी द्वारा सांस्कृतिक आदान-प्रदान पर रोक लगाने का फैसला हैरानगी भरा है. ये वही लोग हैं जो 'टुकड़े टुकड़े गैंग' के समर्थक हैं. जब उरी हमले के बाद पाकिस्तान के कलाकारों पर बंदिश लगाई जा चुकी हैं तो ऐसे में कराची में कार्यक्रम का आयोजन करने का क्या तुक है? अब वो अपना चेहरा बचाने की कोशिश कर रहे हैं. फिल्म इंडस्ट्री ऐसे देशद्रोहियों से भरी पड़ी है, जो दुश्मनों का हौसला बढ़ाते रहते हैं. अब वक्त आ गया है कि कोई ठोस और निर्णायक कदम उठाया जाए. पाकिस्तान पर पाबंदी लगाना हमारा फोकस नहीं होना, बल्कि पाकिस्तानी की बर्बादी हमारा मकसद होना चाहिए.'

Recommended

Loading...
Share