मीटू विवाद में IFTDA ने दिया विपुल अमृतलाल शाह को क्लीन चिट

By  
on  

बॉलीवुड के अन्दर मीटू मूवमेंट एक ऐसी पहल की तरह आया जिसको  समर्थन दुनियाभर के लोगों का प्राप्त हुआ. इस मूवमेंट के अन्दर हिंदी फिल्म इंडस्ट्री के कई बड़े शख्सियतों का नाम भी आया. एक लेटेस्ट रिपोर्ट के अनुसार फिल्म मेकर विपुल अमृतलाल शाह को इंडियन फिल्म एंड टेलीविज़न डायरेक्टर एसोसिएशन ने इस मामले में क्लीन चिट दे दी है.

आपको बता दें कि जब निर्देशक विपुल का नाम मीटू मामले में आया था तब ही निर्देशक ने इंटरनल कंप्लेंट कमेटी और आईएफटीडीए से इस मामले की इन्वेस्टीगेशन की गुहार लगायी थी. एक लीडिंग डेली की रिपोर्ट्स के अनुसार आईएफटीडीए के फाइनल लेटर में ये कहा गया है कि ‘हमने दोनों पक्षों को सुना,पोश कमेटी ने इस मामले में सुनवाई की है,आपको बता दें कि ऐक्ट्रेस और मॉडल एल्नाज नोरौजी ने पोश कमेटी की सुनवाई में साथ नही दिया जिसके बाद हमने ये फैसला किया है कि निर्देशक विपुल शाह के ऊपर सारे आरोप को खारिज किया जाता है.’

इसके साथ ही आपको बता दें कि ईरानी ऐक्ट्रेस और मॉडल एल्नाज नोरौजी ने डायरेक्टर विपुल शाह पर मानसिक प्रताड़ना और यौन उत्पीड़न का आरोप लगाया था. वहीं दूसरी ओर निर्देशक राजकुमार हिरानी के ऊपर भी अभी 2 महीने पहले फिल्म संजू की फीमेल को वर्कर ने यौन उत्पीड़न का आरोप लगाया था.

आपको बता दें कि अब आने वाले फिक्की फ्रेम में राजकुमार हिरानी को पार्टिसिपेट करने के लिए निमंत्रण दिया गया है. एक लीडिंग मीडिया की रिपोर्ट के अनुसार ये मीडिया कॉन्क्लेव 12 से 14 मार्च तक चलेगा. इसमें आने वाले सेगमेंट फ्रेम योर आईडिया के लिए निर्देशक को आमंत्रित किया गया है.

https://twitter.com/FICCIFRAMES/status/1098162366213046272

लीडिंग डेली से कॉन्क्लेव के सोर्स ने बात करते हुए कहा कि ‘निर्देशक राजकुमार हिरानी की साफ़ सुधरी छवि है. फिक्की फ्रेम के मेम्बर ये सोचते हैं कि जब तक वो गिल्टी नहीं होतें हैं तब तक उनको बुलाने में कोई गुरेज़ की बात नहीं है. उनके ऊपर आरोप लगने के बाद भी फिल्म इंडस्ट्री के बड़े मेंबर्स उनके सपोर्ट में आए थे.’

Recommended

Loading...
Share