IFTDA की मांग, स्टूडियो की जमीन पर राज कपूर को समर्पित म्यूजियम बनाए

By  
on  

पिछले हफ्ते चेंबूर स्थित 71 साल पुराने आर के स्टूडियो के बिकने की खबर मीडिया में आई. इस स्टूडियो को गोदरेज प्रॉपर्टीज ने शॉपिंग मॉल में तब्दील करने का फैसला किया. स्टूडियो की गरिमा बनाए रखने के लिए कपूर परिवार ने बहुत कोशिश की लेकिन पिछले साल स्टूडियो में आग लगने के कारण कपूर फैमिली ने इसे बेचने का फैसला लिया, क्यूंकि समय के साथ इसकी देख रेख कर पाना मुश्किल हो रहा था.

लेटेस्ट रिपोर्ट्स के अनुसार इंडियन फिल्म एंड डायरेक्टर्स एसोसिएशन (IFTDA) ने गोदरेज प्रॉपर्टी को खत लिखकर अनुरोध किया है कि स्टूडियो की जमीन पर राज कपूर को समर्पित एक म्यूजियम बनाया जाए.

डायरेक्टर्स एसोसिएशन ने खत में लिखा, हमें बेहद खुशी हैं कि गोदरेज ने यह प्रॉपर्टी खरीद ली हैं. उम्मीद करते हैं कि प्रॉपर्टी को अच्छे प्रयोग में लाया जाएगा. राज कपूर साहब एक महान प्रतिभा के धनी थे. वो हमारे लिए पूरी एक संस्था थे जिनसे हमने काफी कुछ सीखा हैं. इसलिए एसोसिएशन कि और से यह अनुरोध हैं कि उस जमीन पर राज साहब को समर्पित एक म्यूजियम का निर्माण कराएं. एसोसिएशन के प्रमुख अशोक पंडित ने कहा कि हमें यह एहसास हुआ कि उस जमीन पर राज कपूर जी की धरोहर को बचाए रखने के लिए किसी प्रकार का निर्माण जरूर होना चाहिए जिससे आने वाली पीढ़ी उनके बारे में जान सके.

स्टूडियो बेचने के बाद अभिनेता रणधीर कपूर ने एक इंटरव्यू में कहा कि उम्मीद हैं कि स्टूडियो के नए मालिक इस जगह के महत्त्व को समझेंगे और उस स्टूडियो का सम्मान भी रखेंगे.

Recommended

Loading...
Share