जब आप सामाजिक मुद्दे पर ‘आर्टिकल 15’ जैसी फिल्म करते हैं तो आपको बिजनेस के बारे में नहीं सोचना चाहिए: आयुष्मान खुराना

By  
on  

बॉलीवुड अभिनेता आयुष्मान खुराना बड़े पर्दे पर फिल्म ‘आर्टिकल 15’ लेकर आ रहें हैं, इस फिल्म के साथ अभिनेता एक बहुत बड़े सामाजिक मुद्दे को उठाते हुए नजर आने वाले हैं. ये फिल्म सामाजिक जाति व्यवस्था पर तंज कसती हुई नजर आ रही है. फिल्म के ट्रेलर को दर्शकों ने काफी पसंद भी किया है.

आपको बता दें कि आयुष्मान खुराना ने अनुपमा चोपड़ा से बात करते हुए इस फिल्म के विषय और अपने आगामी प्रोजेक्ट्स के बारे में भी कुछ दिलचस्प बातें बतायीं हैं. आयुष्मान ने बताया कि कास्ट सिस्टम एक सोशल इश्यू है, अभिनेता ने कहा है कि ‘जब आप ऐसी फिल्म चुनते हैं तो सिर्फ बिजनेस के बारे में नहीं सोच सकते, हर आर्टिस्ट की समाज के प्रति भी कुछ जिम्मेदारियां होतीं हैं. आपको ऐसी फिल्मों का चुनाव करना चाहिए क्यूंकि समाज को इसकी जरुरत है.’

इसके साथ ही आपको अवगत करा दें कि ये फिल्म भारतीय संविधान में मौजूद ‘अनुच्छेद 15’ पर आधारित है, जो किसी भी व्यक्ति के साथ जाति, धर्म और लिंग के आधार पर भेदभाव नहीं करने की बात कहता है.

 

 

(Source: Film Companion) 

Recommended

Loading...
Share