रानी मुखर्जी स्टारर 'मर्दानी 2' के मेकर्स ने विवाद से बचने के लिए वापस लिया फिल्म के सच्ची घटनाओं से प्रेरित होने का दावा

By  
on  

रानी मुखर्जी की अपकमिंग फिल्म 'मर्दानी 2' अपने शानदार ट्रेलर रिलीज के बाद से जहां ऑडियंस के बीच चर्चा का विषय बनी हुई है. तो साथ ही फिल्म में कोटा शहर के नाम का इस्तेमाल करने की वजह से फिल्म मुश्किल में भी आ गई क्योंकि कोटा के निवासी इस बात से बिल्कुल भी खुश नहीं हैं. वहां के लोगो का मानना है की इससे शहर की छवि धूमिल हो रही है. उनकी मांग है कि कोटा का नाम फिल्म से हटा दिया जाना चाहिए. अब एक लीडिंग डेली की ताजा रिपोर्ट के अनुसार फिल्म के मेकर्स ने इस विवाद को ध्यान में रखते हुए फिल्म को सच्ची घटनाओं से प्रेरित होने का दावा वापस लेने का फैसला लिया है. 

फिल्म के निर्देशक गोपी पुथरन ने इस विषय पर खुलासा करते हुए कहा, 'हमें पता है कि ट्रेलर में यह दर्शाया गया है कि फिल्म सच्ची घटनाओं से प्रेरित है और यह कोटा पर आधारित है. इसलिए यह गलतफहमी हो सकती है. हालांकि यश राज फिल्म्स ने फैसला किया है कि हम इस दावे को हटा देंगे. ताकि फिल्म को लेकर गलत व्याख्या के लिए आगे कोई जगह नहीं हो'.

उन्होंने यह भी बताया कि पहली बार केवल थ्रिलर फिल्म के लिए उत्तर भारतीय शहर के नाम का इस्तेमाल किया. गोपी ने आगे कहा, 'मर्दानी 2 बलात्कार के मुद्दे और भारत में किशोरों द्वारा किए गए भयंकर अपराधों शुरुआत को दर्शाने वाली फिल्म है. मैं पिछले चार सालों में देश भर में हुई कई घटनाओं से दुखी था 
 और यह फिल्म सभी से प्रेरित रही है. लेकिन यह एक फिल्म है और कोई डॉक्यूमेंट्री नहीं है इसलिए इसे उसी रूप में देखा जाना चाहिल. कोटा के नाम का उपयोग हमारे द्वारा केवल फिल्म के लिए सेटिंग के रूप में किया गया है. हमारा इस शहर की प्रतिष्ठा को धूमिल करने का कोई इरादा नहीं था. अगर इससे वहां के निवासियों की भावनाओं को ठेस पहुंची है, तो हमें खेद है'.

फिल्म  'मर्दानी 2' में रानी पुलिस अधिकारी शिवानी शिवाजी रॉय की भूमिका में दिखाई देंगी.  उनका अभिनय भी ट्रेलर में बेहद शानदार लग रहा है. रानी मुखर्जी के अलावा फिल्म में राजेश शर्मा और विक्रम सिंह चौहान भी नजर आएंगे. फिल्म 13 दिसंबर 2019 को रिलीज होगी.

(Source: Mid Day)

Recommended

Loading...
Share