कोरोना की वजह से दिग्गज अभिनेत्री आशालता वाबगांवकर का 83 उम्र में हुआ निधन, रेणुका शहाणे ने दी श्रद्धांजलि 

By  
on  

मशहूर मराठी और हिंदी फिल्म अभिनेत्री आशालता वाबगांवकर का महाराष्ट्र के सतारा जिले में 83 वर्ष की आयु में निधन हो गया. मंगलवार सुबह 4. 45 मिनट पर आशालता ने आखिरी सांस ली. उनके निधन की वजह कोरोना बताई जा रही है. कोरोना से संक्रमित होने के बाद बीते दिनों उन्हें सतारा के एक अस्पताल में भर्ती कराया गया था.

आशालता के परिवार के मुताबिक़ सतारा अस्पताल में वह अपने मराठी सीरियल 'आई कलुबाई' की शूटिंग करने पहुंची थीं. जहां पर उनकी कोरोना वायरस की जांच हुयी. जिसमें उन्हें वायरस से संक्रमित पाया गया. आशालता का अंतिम संस्कार सतारा में ही किया जाएगा. 

अभिनेत्री रेणुका शहाणे ने उनके नधन पर ट्वीट करते हुए लिखा, 'बेहद दयालु, प्यार, संवेदनशील, महान कलाकार. आशाताई की आत्मा को शांति मिले, जो हमेशा मुझे बेबी कहकर बुलाती थी. भावपूर्ण श्रद्धांजलि.' 

 

बता दें, आशालता का जन्म 2 जुलाई 1941 को गोवा में हुआ था. उन्होंने 100 से ज्यादा हिंदी और मराठी फिल्मों में काम किया था. उन्होंने मराठी फिल्मों के लिए गाने भी गाए थे. उन्होंने कई हिंदी फिल्मों में भी कमा किया है. उनकी पहली बॉलीवुड फिल्म 'जंजीर' थी. इस फिल्म में उन्होंने अमिताभ बच्चन की सौतेली मां का किरदार किया था लेकिन उन्हें असली पहचान बासु चटर्जी की फिल्म 'अपने पराये' से मिली थी. इस फिल्म के लिए उन्हें सह कलाकार के रूप में फिल्मफेयर का अवॉर्ड मिला था. 

आशालता वाबगांवकर ने अंकुश, अपने पराए, आहिस्ता आहिस्ता, शौकिन, वो सात दिन, नमक हलाल और यादों की कसम सहित कई शानदार फिल्में की थीं. 

 

(Source: Twitter)

Recommended

Loading...
Share