बदायूं केस: महिला आयोग की सदस्य के बयान पर भड़कीं पूजा भट्ट, राष्ट्रीय महिला आयोग की अध्यक्ष रेखा शर्मा ने दी सफाई

By  
on  

यूपी के बदायूं में 50 वर्षीय महिला के साथ गैंगरेप और हत्या की घटना ने सबको चौंका दिया है. वहीं राज्य सरकार ने STF का गठन कर दिया है और मुख्य आरोपी भी गिरफ्तार हो चुका है. पर इस घटना पर हाल ही में महिला आयोग की सदस्या चंद्रमुखी देवी ने एक ऐसा बयान दिया, जिसपर विवाद हो गया है. वहीं इस बयान के बाद पूजा भट्ट ने महिला आयोग की सदस्या को आड़े हाथो लिया. जिसके बाद राष्ट्रीय महिला आयोग की चीफ रेखा शर्मा को उसपर सफाई देनी पड़ी है. 

दरअसल पहले महिला आयोग की सदस्या चंद्रमुखी देवी ने पीड़ित महिला के परिजनों से मुलाकात के बाद कहा, 'मैं सोचती हूं कि अगर वह शाम को वहां नहीं जाती या परिवार के किसी बच्चे को साथ ले जाती तो शायद इस घटना को टाला जा सकता था.'  महिला आयोग की सदस्य के इस बयान पर बॉलीवुड एक्ट्रेस और फिल्ममेकर पूजा भट्ट ने भी इस बयान पर नाराजगी जताते हुए महिला आयोग पर निशाना साधा है. उन्होंने सीधे अध्यक्ष रेखा शर्मा पर तीखे सवाल दाग दिए हैं. उन्होंने जानना चाहा है कि अगर महिला आयोग भी ऐसे संवेदनशील मामलों अपनी यही राय रखता है. पूजा ने ट्वीट में लिखा है, 'रेखा जी क्या आप इस बयान से सहमत हैं. क्या आपको भी यही लगता है कि महिला का गलत समय में मंदिर जाने के लिए बाहर निकलना ठीक नहीं था.'

अब रेखा शर्मा की तरफ से जवाब देने में देरी नहीं हुई है. उन्होंने ना सिर्फ अपने उस सदस्य के बयान का खंडन किया है बल्कि महिलाओं के बाहर निकलने पर भी अपनी राय स्पष्ट कर दी है. वे लिखती हैं, 'मैं बिल्कुल भी सहमत नहीं हूं इससे. मुझे नहीं पता कि सदस्य ने ऐसा क्यों कहा है. सभी महिलाओं को पूरा हक है कि वे कभी भी और कही भी जा सकती हैं. महिलाओं को सुरक्षा प्रदान करना समाज का काम है. रेखा शर्मा के इस जवाब से पूजा भी संतुष्ट नजर आईं और उन्होंने उम्मीद जताई कि इस केस में भी जल्द न्याय होगा.'

(Source: Twitter)

Recommended

Loading...
Share