Board Exams 2021: बोर्ड एग्जाम रद्द करने के समर्थन में आए सोनू सूद, रवीना टंडन, अरमान मलिक, कहा- 'ये वक्त बहुत ही तनावपूर्ण है'

By  
on  

देशभर में बढ़ती कोरोना महामारी को लेकर सभी चिंतित है और ऐसे में बोर्ड परीक्षाओं कराने की बात पर सेलेब्स अपनी प्रतिक्रिया दे रहे हैं. वहीं महाराष्ट्र में बढ़ते कोरोना संक्रमण और लॉकडाउन लगने की आशंकाओं के बीच राज्य सरकार ने 10वीं 12वीं की बोर्ड परीक्षा स्थगित कर दी है. तय शेड्यूल के मुताबिक 12वीं कक्षा की परीक्षा 23 अप्रैल से और 10वीं की परीक्षा 29 अप्रैल से शुरू होनी थी। फैसले की जानकारी देते हुए राज्य की शिक्षा मंत्री वर्षा गायकवाड़ ने कहा, 'कोविड-19 की स्थिति के मद्देनजर महाराष्ट्र बोर्ड 10वीं 12वीं की परीक्षा टाल दी गई है. अब 12वीं की परीक्षा मई के अंत में और 10वीं की परीक्षा जून में आयोजित होगी. महाराष्ट्र राज्य माध्यमिक एवं उच्च माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (एमएसएसएचएसईबी) बहुत जल्द नई डेटशीट जारी करेगा.' वहीं सरकार की इस अनाउंसमेंट पर कई सेलेब्स ने बोर्ड परीक्षाओं के रद्द करने पर अपनी प्रतिक्रिया दी थी. 

सोनू सूद ने इंस्टाग्राम पर एर वीडियो मैसेज पोस्ट करते हुए कहा, 'अभी हमारे देश के बच्चे बोर्ड एग्जाम के लिए तैयारी कर रहे हैं, लेकिन मुझे नहीं लगता कि वह इसके लिए तैयार हैं. जबकि सउदी अरब में सिर्फ 600 केस हैं, तो एग्जाम रद्द कर दिए गए हैं. मेक्सिको में सिर्फ 1300 केस हैं और एग्जाम रद्द कर दिए. कुवैत में 1500 कोरोना के मामलों के चलते एग्जाम कैंसल कर दिए गए हैं.'

डायरेक्टर आनंद एल राय और अक्षय कुमार स्टारर 'रक्षा बंधन' के लिए केप ऑफ गुड फिल्म्स और कलर येलो प्रोडक्शंस के साथ बोर्ड पर आया ज़ी स्टूडियोज़

 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 

A post shared by Sonu Sood (@sonu_sood)

सोनू ने भारत के बारे में बोलते हुए कहा, 'हमारे देश में सीबीएसई के एग्जाम हो रहे हैं. मुझे नहीं लगता कि हमारे देश के छात्र और सिस्टम इस समय एग्जाम करवाने के लिए तैयार है. यहां 1 लाख 45 हजार केस रोजाना आ रहे हैं और हम एग्जाम करवाने पर विचार कर रहे हैं, जो बिल्कुल अनुचित है. हमें इंटरनल असेस्टेंट करके इन छात्रों का समर्थन करना चाहिए. जब लॉकडाउन की बात कर रहे हैं और दूसरी तरफ एग्जाम करवा रहे हैं तो मुझे लगता है कि हमें इस छात्रों के समर्थन में आना चाहिए.'

वहीं रविना टंन ने अपने ट्विटर हैंडल से ट्वीट करते हुए लिखा, 'अपने बोर्ड परीक्षा के लिए उपस्थित होने वाले सभी छात्रों के लिए ये वक्त बहुत ही तनावपूर्ण है। जब सभी बड़े लॉकडाउन मोड में हैं तो बच्चे परीक्षा देने के लिए बाहर जाये। बहुत बहादुर। जिन बच्चों के घरों में बुजुर्ग और माता-पिता को स्वास्थ्य संबंधी समस्या है. उन सदस्यों को भी वे बच्चे जोखिम में डाल देंगे.'

(Source: Instagram/Twitter) 

Recommended

Loading...
Share