जब अमिताभ बच्चन ने यश चोपड़ा से मांगा था काम, बेटे अभिषेक बच्चन के मुताबिक इन दो प्रोजेक्ट्स ने किया था महानायक की किस्मत बदलने का काम

By  
on  

बॉलीवुड स्टार अभिषेक बच्चन ने हाल ही में खुलासा किया है कि जब उनका परिवार 1990 के दशक में वित्तीय संकट से गुजरा था, तब उन्हें कॉलेज ड्रॉप ऑउट करने और घर वापस लौटने के लिए मजबूर होना पड़ा था. क्योंकि उनके पिता, अमिताभ बच्चन, उस समय बहुत कठिन समय से गुजर रहे थे.

YouTuber Ranveer Allahbadia के पॉडकास्ट पर एक इंटरव्यू के दौरान, अभिषेक ने उस समय को याद करते हुए कहा कि भले ही वह किसी भी तरह से उनकी मदद करने के लिए 'योग्य' नहीं थे, उन्होंने महसूस किया कि एक बेटे के रूप में, उन्हें अपने पिता के आसपास होना चाहिए.

(यह भी पढ़ें: अभिषेक बच्चन की 'द बिग बुल' बनीं साल की सबसे बड़ी ओपनर फिल्म, अमिताभ बच्चन हुए गौरान्वित )

अभिषेक कहते हैं कि "मैंने अपनी पढ़ाई छोड़ी, उस समय बॉस्टन यूनिवर्सिटी में था. पहले लिबरल आर्ट्स और फिर परफॉर्मिंग आर्ट्स में हाथ आजमाया. उस समय मैंने पढ़ाई इसलिए छोड़ी क्योंकि मेरे पिता आर्थिक तंगी से गुजर रहे थे. उन्होंने यह बिजनेस शुरू किया था, जिसका नाम था अमिताभ बच्चन कॉर्पोरेशन लिमिटेड (एबीसीएल). मैंने उनकी कंपनी में बतौर प्रोडक्शन ब्वॉय काम करना शुरू किया. जब पिता ने मुझे बताया कि उनकी न तो फिल्में चल रही हैं और न ही कंपनी, तब उन्होंने एक्टिंग में दोबारा वापसी का तय किया. इसके लिए वह यश चोपड़ा के पास काम मांगने गए. उस समय उन्हें फिल्म 'मोहब्बतें' मिली, साथ ही रियलिटी शो 'कौन बनेगा करोड़पति' शुरू हुआ.  दोनों ही प्रोजेक्ट्स से पिता की किस्मत चमकी. आज वह आप सभी के सामने हैं."

वर्क फ्रंट पर अभिषेक के पास इस समय 'दसवी' और 'बॉब बिस्वास' जैसी फ़िल्में हैं. जबकि उनकी हाल ही में रिलीज की गयी 'द बिग बुल' को दर्शकों द्वारा पसंद किया गया है. फिल्म को महामारी के माहौल को देखते हुए OTT प्लेटफॉर्म्स पर रिलीज किया गया था.

(Source: YouTuber Ranveer Allahbadia Podcast)

Recommended

Loading...
Share