26 years of DDLJ: शाहरुख खान और काजोल की आइकॉनिक फिल्म हुई 'गूगल आर्ट एंड कल्चर' पर फीचर, प्लेटफॉर्म ने माना ऑल टाइम फेवरेट क्लासिक

By  
on  

शाहरुख खान और काजोल की आइकॉनिक फिल्म 'दिलवाले दुल्हनिया ले जाएंगे' को रिलीज हुए 26 साल हो गए. 20 अक्टूबर 1995 में रिलीज हुई आदित्य चोपड़ा की डीडीएलजे ने शाहरुख को किंग ऑफ रोमांस बना दिया था. किसी सिनेमाघऱ में सबसे लंबे समय तक चलने वाली हिंदी फिल्म बन चुकी 'दिलवाले दुल्हनिया ले जाएंगे' में राज और सिमरन की खूबसूरत प्रेम कहानी दिखाई गई थी. ब्लॉकबस्टर रही इस फिल्म ने युवाओं के प्यार मोहब्बत को नए नजरिये से देखने का अध्याय भी खोला. वहीं फिल्म ने सफलता के कई आयाम लिखे. वहीं अब इस आइकॉनिक फिल्म ने 'गूगल आर्ट एंड कल्चर' पर अपनी जगह बनाई है. प्लेटफॉर्म ने फिल्म को ऑल टाइम फेवरेट क्लासिक माना.

 
 
 
 
 
 

भारतीय सिने इतिहास की यादगार फिल्मों में से एक दिलवाले दुल्हनिया ले जाएंगे के नाम कई सारे रिकॉर्ड हैं. इस फिल्म ने न सिर्फ बॉक्स ऑफिस पर कई सारे रिकॉर्ड बनाए, बल्कि बतौर कलाकार शाहरुख खान और काजोल को हमेशा के लिए अमर कर दिया. बाऊजी के किरदार में अमरीशपुरी को भला कौन भूल सकता है. फिल्म की कहानी लंदन से पंजाब तक के सफर में कई दिलचस्प मोड़ लेती है. फिल्म में असली मोड़ तब आता है, जब बाऊजी को अपने हिंदुस्तानी दोस्त अजीत का एक खत मिलता है, जिसमें सिमरन (काजोल) और कुलजीत (परमीत सेठी) की शादी की बात लिखी होती है. इसी के बाद बाऊजी सिमरन को लेकर अपने देश चले आते हैं. उनके पीछे-पीछे राज भी चला आता है. इस तरह राज और सिमरन की प्रेम कहानी अमर हो जाती है.

‘दिलवाले दुल्हनिया ले जाएंगे’ ने 10 फिल्मफेयर पुरस्कार जीते और हिंदी सिनेमा का चेहरा बदल कर रख दिया था. यह फिल्म उस समय चार करोड़ रुपये में बनी थी और 1995 के दौरान इसने भारत में 89 करोड़ रुपये तथा ओवरसीज मार्केट से 13.50 करोड़ रुपये जुटाए थे। इस प्रकार दुनिया भर से कुल 102.50 करोड़ रुपये का कलेक्शन हुआ। इसे तब के सोने के भाव के हिसाब से आज की बिक्री में तब्दील करें तो ये कुल कलेक्शन 524 करोड़ रुपये तक जा पहुंचता है.

दिलवाले दुल्हनिया ले जाएंगे में अनुपम खेर, फरीदा जलाल, अमरीश पुरी, हिमानी शिवपुरी, परमीत सेठी, मंदिरा बेदी, सतीश शाह, करण जौहर भी अहम किरदारों में थे. 
(Source: Google Arts and Culture/Instagram) 

 

 

 

 

 

 

 

 

Recommended

Loading...
Share