'अनारकली ऑफ आरा' के डायरेक्टर अविनाश दास के खिलाफ अहमदाबाद पुलिस ने दर्ज किया केस, तिरंगे के अपमान का है आरोप 

By  
on  

बॉलीवुड डायरेक्टर अविनाश दास मुश्किलों में फंस गए हैं। अहमदाबाद क्राइम ब्रांच ने 'अनारकली ऑफ आरा' के डायरेक्टर के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है। उन पर आरोप है कि उन्होंने सोशल मीडिया पर मनी लॉन्डरिंग के आरोप में गिरफ्तार हुईं आईएएस अधिकारी पूजा सिंघल के साथ कथित तौर पर गृह मंत्री अमित शाह की तस्वीर शेयर कर भ्रामक जानकारी फ़ैलाने की कोशिश की है।  अविनाश दास पर आरोप है की उन्होंने ने कथित तौर पर लोगों को गुमराह किया और मंत्री की गरिमा को नुकसान पहुंचाया।

अहमदाबाद करें ब्रांच के के अधिकारियों के अनुसार उन्हें सोशल मीडिया पर 17 मार्च की एक पोस्ट मिली, जिसमें एक फिल्म निर्देशक अविनाश दास (Avinash Das) ने एक कथित अश्लील तस्वीर साझा की, जिसमें एक महिला को तिरंगे के रंग से रंगा गया था। इसके अलावा, अविनाश दास ने 8 मई को गृह मंत्री अमित शाह के साथ झारखंड की आईएएस अधिकारी पूजा सिंघल की पांच साल पुरानी तस्वीर साझा की थी।

उन पर आरोप की जानबूझकर अविनाश दास ने इस तस्वीर को लोगों के मन में गलतफहमी पैदा करने और देश के शीर्ष पद पर नियुक्त गृह मंत्री अमित शाह (Amit Shah) की छवि खराब करने के इरादे से पोस्ट किया है। शाह और पूजा सिंघल (Pooja Singhal) को दिखाते हुए इस ट्वीट में दास ने लिखा था कि ‘घर से करोड़ों का कैश पकड़ाने से थोड़े दिन पहले पूजा सिंघल की एक तस्वीर।’

अपराध शाखा (Ahmedabad Crime Branch) की तरफ से बयान में कहा गया है कि दास ने तिरंगे के साथ महिला की अश्लील तस्वीर राष्ट्रीय ध्वज (Tiranga) का अपमान करने के इरादे से पोस्ट की। ऐसे में अविनाश दास पर जालसाजी और सूचना प्रौद्योगिकी (IT) अधिनियम के तहत शाह और सिंघल के बारे में फर्जी पोस्ट फैलाने और राष्ट्रीय सम्मान के अपमान की रोकथाम अधिनियम के तहत मामला दर्ज किया गया है।

पूर्व आईएएस अधिकारी पूजा सिंघल को बुधवार को 18 करोड़ रुपये के मनरेगा घोटाले में प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने गिरफ्तार किया था और फिर उन्हें निलंबित भी कर दिया गया था। घोटाले के मामले में ईडी की छापेमारी में सिंघल के करीबी सहयोगी के घर से भारी मात्रा में नकदी मिली थी, जिसकी तस्वीर खूब वायरल हुई थी।

Recommended

Loading...
Share