दिग्गज ओडिया अभिनेत्री झरना दास का 82 वर्ष की आयु में निधन, राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मु ने दी श्रद्धांजलि

By  
on  

उड़िया फिल्मों की प्रसिद्ध अभिनेत्री झरना दास का गुरुवार देर रात उनके कटक स्थित आवास पर निधन हो गया। वह 82 वर्ष की थीं। दिवंगत दास ने ऑल इंडिया रेडियो, कटक में एक बाल कलाकार के रूप में अपना कैरियर शुरू किया और बाद में फिल्मों में प्रवेश किया और 1960 और 1970 के दशक में अपने अभिनय से राज्य के लाखों लोगों का दिल जीत लिया।

उड़िया फिल्म जगत में उनके योगदान के लिए 1997 में ओडिशा सरकार ने उन्हें प्रतिष्ठित जयदेव पुरस्कार से सम्मानित किया था। उन्हें लाइफटाइम अचीवमेंट के लिए 2016 में गुरु केलुचरण महापात्र पुरस्कार से भी सम्मानित किया गया था।

इसके साथ झरना दास राज्य सरकार द्वारा दिए जाने वाले जयदेव पुरस्कार से भी सम्मानित थी। यह पुरस्कार ओरिया फिल्म इंडस्ट्री में दिए योगदान के लिए दिया जाता है। वह आयु से जुड़ी समस्याओं से जूझ रही थी। उनका निधन गुरुवार की रात हुआ था। झरना दास के निधन पर राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मु, उड़ीसा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक और केंद्रीय शिक्षा मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने दुख जताया है।

राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मु ने ट्वीट करते हुए लिखा था, 'सदाबहार उड़िया एक्ट्रेस झरना दास के निधन की बात सुनकर दुखी हूं। उड़िया फिल्म इंडस्ट्री में दिए गए उनके योगदान को हमेशा याद रखूंगी। उनके परिवार और प्रशंसकों को मेरी ओर से श्रद्धांजलि।' उड़ीसा के मुख्यमंत्री ने जानकारी दी कि झरना का अंतिम संस्कार राजकीय सम्मान के साथ किया जाएगा। नवीन पटनायक ने सोशल मीडिया पर लिखा है, 'उन्होंने स्टेज पर कई दमदार परफॉर्मेंस दी है। उनकी फिल्मों के जरिए वह हमेशा याद की जाएगी। उनकी आत्मा को शांति मिले।

Recommended

Loading...
Share