'परी' सामान्य भारतीय हॉरर फिल्मों की तरह नहीं : प्रेरणा अरोड़ा

By  
on  

फिल्म निर्माता प्रेरणा अरोड़ा ने कहा कि अनुष्का शर्मा अभिनीत फिल्म 'परी' सामान्य भारतीय हॉरर फिल्मों की तरह नहीं है. अरोड़ा ने कहा, 'परी' भारत की सामान्य हॉरर फिल्मों की तरह नहीं है, जिसमें अलग-अलग तरह की आवाजें हों. इस फिल्म की कहानी पूरी तरह से अलग है. इस हॉरर फिल्म को लोगों की रोजमर्रा की जिंदगी से इस तरह जोड़ा जाएगा कि दर्शक दंग रह जाएंगे.' उन्होंने कहा कि दर्शकों ने इससे पहले अनुष्का का यह रूप नहीं देखा होगा.

प्रेरणा ने कहा, 'इससे पहले उन्होंने एक फिल्म (फिल्लौरी) में भूतनी का किरदार निभाया है, लेकिन वह मजाकिया था. 'परी' में उनका किरदार बेहद अलग है. मुझे नहीं लगता कि दुनिया में किसी अभिनेत्री ने इस तरह की भूमिका निभाई होगी.' इस फिल्म के रिलीज होने के बाद आपको जून में मस्ती से भरी फिल्म 'वीर दी वेडिंग' देखने को मिलेगी, जिसे अंशु त्रिखा ने निर्देशित किया है.

त्रिखा ने कहा, 'मेरी हर फिल्म में एक अलग कहानी होती है. इसमें सामान्य कहानी बताई गई है और मेरा मानना है कि सामान्य कहानियों को दर्शाना बहुत मुश्किल होता है. जी हां, यह सामान्य है और इसके गाने मेरे लिए चिंता का मुख्य विषय रहे.'

इस फिल्म के किसी प्रकार से छोटे शहर की पृष्ठभूमि पर आधारित रोमांटिक दृश्यों को दिखाए जाने के बारे में अंशु ने कहा, 'यह छोटे शहर की पृष्ठभूमि पर आधारित फिल्म नहीं है. यह दिल्ली की शादी पर आधारित है. इसमें दिखाए जाने वाले परिवार अमीर घराने से है. बड़े घर और महंगी गाड़ियां जैसे.'

अंशु ने कहा, 'इसमें यह दिखाया गया है कि फिल्म का नायक एक झगड़े में फंस जाता है. ऐसे में लड़की के पिता को यह बिल्कुल पसंद नहीं आता कि उनका दामाद एक ऐसा इंसान हो, जो सड़क किनारे किसी भी व्यक्ति से उलझ जाता है. मेरा यह मानना है कि यह वास्तविक है.

निर्देशक ने कहा,. हम भी नहीं चाहेंगे कि हमारे बेटे सड़क पर लड़ाई करते फिरें. हालांकि, नायक ने इस फिल्म में ऐसा किसी कारण से किया है. यह अक्सर होता है दूसरे की भलाई के लिए. यह उसकी विशिष्टता है.'

Recommended

Loading...
Share