मैं अपने जीवन को स्वयं फैसला करने देता हूं: बिजय जे आनंद

By  
on  

कुंडलिनी योग गुरु और एक्टर बिजय जे आनंद कहते हैं, "यह मेरा कर्म है कि मैं योग से ज्यादा से ज्यादा लोगो को अपने जीवनकाल ठीक करूं और यह मेरा जुनून है जिसने मुझे मेरे पहले प्यार, एक्टिंग में वापस लाया है."

आपको बता दें कि आज की तारीख में बहुमुखी प्रतिभा के मालिक बिजय को बॉलीवुड से लेकर वेब सीरीज तक के प्रोड्यूसर अपने प्रोजेक्ट में लेना चाहते हैं. लेकिन एक समय ऐसा भी था जब काजोल के साथ सुपर-हिट ब्लॉकबस्टर 'प्यार तो होना ही था' में काम कर चुके बिजय ने अपने करियर के चरम पर कुल 22 फिल्मों को करने से इनकार कर दिया था. 

(यह भी पढ़ें: मोहित सूरी की फिल्म 'मलंग' की अनिल कपूर कुछ इस तरह कर रहे हैं तैयारी)

एक्टर का कहना है कि उन्होंने इंडस्ट्री को इसलिए छोड़ा था क्योंकि वह योग के लिए अपने जुनून को फॉलो करना चाहते थे. ऐसे में एक्टर को 17 साल के लम्बे गैप के बाद टीवी शो 'सिया के राम' में जनक के किरदार में देखा गया था. इसके बारे में एक्टर ने कहा था कि "इस भूमिका के लिए बतौर एक योगा टीचर और आध्यात्मिक उपचारकर्ता के रूप में मैं मना नहीं कर सकता था."

टीवी पर यह किरदार निभाने के बाद बिजय के पास एक के बाद एक कई प्रोजेक्ट्स आने लगे और इस तरह से हमने उन्हें करनजीत कौर में देखा, जिसमे उन्होंने सनी लियोन के पिता का किरदार निभाया था. फ़िलहाल की बात करें तो एक्टर अपने  दृढ़ता से तेज़ और एक लम्बी उड़ान भरने के लिए तैयार हैं. साथ ही वह अपने पहले प्यार यानी एक्टिंग को अपना कर बेहद खुश हैं. 

हालही में उन्होंने धर्मा प्रोडक्शन की 'शेरशाह' की शूटिंग पूरी की है. बता दें कि फिल्म में वह एक्ट्रेस कियारा आडवाणी के पिता की भूमिका में नजर आने वाले हैं. इसके अलावा वह अपकमिंग नेटफ्लिक्स ब्लॉकबस्टर, 'बाहुबली - बिफोर द बिगनिंग' में एक महत्वपूर्ण किरदार निभाने वाले हैं. 

बिजय अपने दोनों प्यार को बैलेंस करते हुए फिलहाल मैनचेस्टर में एक योगा फेस्टिवल में सीखाने के लिए रवाना हो चुके हैं. जिसके बाद वह यूरोप के प्राग में योगा वर्कशॉप का दौरा करेंगे.

बिजय से उनके आगे के प्लान के बारे में पूछने पर उन्होंने कहा, "मैं अपने जीवन को स्वयं फैसला करने देता हूं."

Recommended

Share