Tanushree Dutta EXCLUSIVE : मुंबई पुलिस नाना पाटेकर को बचाने के लिए कर रही थी जांच 

By  
on  

बॉलीवुड अभिनेता नाना पाटेकर के खिलाफ मुंबई पुलिस को कोई सबूत ना मिलने और क्लीन चीट मिलने पर बॉलीवुड एक्ट्रेस तुनश्री दत्ता का बड़ा बयान सामने आया है. मुंबई पुलिस की कारवाई पर अभिनेत्री जमकर भड़की हैं. इतना ही नहीं तनुश्री दत्ता ने मुंबई पुलिस को करप्ट बताया है. तनुश्री दत्ता का कहना है की, मुंबई पुलिस के ऐसे व्यवहार से मैं निराश हूँ. मेरे गवाहों को डराया धमकाया गया है. वहीं अभिनेता आलोकनाथ को आसानी से क्लीन चिट मिल गई, इसलिए नाना पाटेकर के लिए भी आसान हो गया लेकिन हम नाना को जाने नहीं देंगे. 

तनुश्री ने आगे कहा, मुंबई पुलिस ने जानबूझकर नाना पाटेकर को बचाया है. सबूतों को छोड़ दें लेकिन नाना से एक बार भी पूछताछ क्यों नहीं की गई? वरिष्ठ अधिकारी ने मुझे FIR दर्ज करने ना करने के लिए क्यों मजबूर किया. कई बार इस मामले के IO ने मुझे समझाने की कोशिश की कि कुछ भी नहीं होगा, नाना पाटेकर का पगडा भरी है और वो एक बड़ी हस्ती है. इतना ही नहीं बल्कि राज ठाकरे द्वारा धमकी दिए जाने पर कोई मामला दर्ज नहीं किया गया. मैंने महाराष्ट्र के सीएम से मिलने की कोशिश की लेकिन उन्होंने भी इनकार किया. 


खैर, मुंबई पुलिस की तरफ से तनुश्री को उस वक्त झटका लगा जब पुलिस ने बताया कि उन्हें जांच के दौरान नाना के खिलाफ कोई सबूत नहीं मिले. जांच के बाद पुलिस ने इस केस में बी समरी फाइल कर दी. बी समरी का मतलब होता है कि पुलिस को आरोपी के खिलाफ कोई सबूत नहीं मिल रहे हैं. ऐसे में केस की आगे की जांच को आगे नहीं बढ़ाया जा सकता.  

बता दें कि पिछले साल बॉलीवुड एक्ट्रेस तनुश्री दत्ता ने मीटू अभियान के दौरान नाना पाटेकर के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई थी. तनुश्री दत्ता ने यह दावा किया था कि 10 साल पहले फिल्म हॉर्न ओके प्लीज के सेट पर नाना पाटेकर ने उनसे गलत व्यवहार किया था. तनुश्री दत्ता फिल्म हॉर्न ओके प्लीज में स्पेशल सॉन्ग के लिए आईं थीं, लेकिन नाना पाटेकर के अभद्र व्यवहार के बाद उन्होंने वह फिल्म छोड़ दी थी.

Recommended

Share