Exclusive: सुनील शेट्टी के मुताबिक लॉकडाउन के बाद फिल्म इंडस्ट्री को लोगों और सरकार की मदद की है जरुरत

By  
on  

बॉलीवुड स्टार सुनील शेट्टी कुछ साल तक ब्रेक लेने के बाद सिल्वर स्क्रीन पर वापस आ चुके हैं. ऐसे में PeepingMoon के साथ एक्सक्लूसिव बातचीत के दौरान एक्टर ने कोरोनावायरस लॉक डाउन के मद्देनजर फिल्म इंडस्ट्री के भविष्य के बारे में बात की, साथ ही उन्होंने बिजनेस में होने वाले इसके बुरे परिणाम पर भी चर्चा की. इंटरव्यू के द्वारा  एक्टर ने इस बात पर भी जोर दिया कि सरकार को कुछ प्रोड्यूसर्स और फिल्म मेकर्स की मदद के लिए आगे आना होगा, जिन्होंने पहले से ही निवेश कर रखा है लेकिन उनका काम इस महामारी के चलते रुका हुआ है.

फाइनेंसियल साइड के बारे में बात करते हुए सुनील ने यह भी खुलासा किया कि वह हाल ही में प्रोड्यूसर बने हैं, लेकिन वह किसी भी प्रोजेक्ट को शुरू करने से पहले इंतजार करेंगे और लोगों को सहूलियत देंगे. इस बारे में बात करते हुए सुनील कहते हैं, "बॉलीवुड को लोगों से और सरकार से बहुत मदद की जरूरत है. यह समझते हुए कि हम लोगों का एंटरटेनमेंट करते हैं. मैं इसकी प्रार्थना करता हूं और इस सच को भी जानता हूं कि यह संभव है. जिन फिल्मों को पूरा करने की जरूरत है और जिन लोगों ने अपने पैसे निवेश किए हैं, उन्हें अपनी फिल्मों को पूरा करने की जरूरत है. मैं खुद फिल्म प्रोड्यूस कर रहा हूं जिसकी शूटिंग जून से शुरू होने वाली है, लेकिन कहीं ना कहीं मैं किसी और को संयोजित करने के लिए तैयार हूं, अगर उन्हें डेट्स को लेकर परेशानी है तो. पहले उन्हें अपनी फिल्म्स खत्म करने दें और फिर आने दे. मेरा इन्वेस्टमेंट अब शुरू होगा, पर उन्होंने पहले ही अपना इन्वेस्टमेंट कर रखा है और उसका नुक्सान सेह रहे हैं."

आगे इस बारे में बात करते हुए सुनील ने कहा है "आप उम्मीद करते हैं कि आरबीआई और वित्त मंत्री ऐसे समय में हमारा समर्थन करेंगे चाहे वह फंड की बात हो या फिर इंटरेस्ट कम करने की. तभी मिडकैप कंपनीज या स्मॉल स्केल कंपनी या फिर इंडस्ट्रीज जिंदा रह पाएंगे. नहीं तो हम नीचे वाले लोगों को फायदा कैसे देंगे? इसलिए कुछ चिंताएं हैं लेकिन आखिरकार हम मैनेज करेंगे क्योंकि आप आखिर में या महसूस करते हैं कि भारत एक अवसर की भूमि है. चाहे वह अमरीका हो, इंग्लैंड हो या बाकी दुनिया हो, सुपरपावर्स हम पर और ईमानदार लोगों पर निर्भर रहने वाला है, भरोसेमंद लोग निर्माण करने के लिए उत्पाद बनाने के लिए हैं और हम सभी को यह याद रखना है कि हमें ईमानदार होना है, हमें समय पर देना चाहिए और हमें क्वालिटी से समझौता नहीं करना चाहिए. इसलिए अच्छे इरादे वाले लोग और अच्छे लोग इसके बाद बहुत फायदा पाएंगे."

(Transcripted By: Nutan Singh)

Recommended

Loading...
Share