PeepingMoon Exclusive: सलमान खान को जोधपुर कोर्ट द्वारा ब्लैक बक पोचिंग और आर्म्स एक्ट केस में समन मिलने से घबराए 'बिग बॉस 14' के मेकर्स

By  
on  

बॉलीवुड सुपरस्टार सलमान खान को जिला और सत्र न्यायालय, जोधपुर द्वारा 28 सितंबर, 2020 को पेश होने के लिए समन जारी किया गया है. यह आदेश उन्हें ब्लैक बक अवैध शिकार और आर्म्स एक्ट केस के तहत दिया गया है. जाहिर है, इस आदेश ने बिग बॉस 14 के मेकर्स के बीच कुछ असहजता और हलचल पैदा कर दी है.

Peepingmoon.com के सूत्रों ने खास तौर से बताया है, "बिग बॉस 14 के मेकर्स ने पहले ही प्रीमियर की तारीख की घोषणा कर दी है और उसी की तैयारी शुरू हो चुकी है. हालांकि, सलमान की उपस्थिति के लिए जोधपुर अदालत द्वारा अचानक घोषणा से कोर टीम के बीच एक घबराहट की स्थिति पैदा हो गई है. कोई भी इस बात से इनकार नहीं कर सकता है कि अगर अदालत उनके खिलाफ कोई फैसला लेती है, तो संभावना है कि उनकी शूटिंग की तारीखों में फेरबदल हो सकती है, जिसे चैनल बर्दाश्त नहीं कर सकता है. मेकर्स और चैनल अधिकारीयों ने अपनी उंगलियां क्रॉस कर के रखी है, क्योंकि एक्टर पर करोड़ों का दाव लगाया जा चूका है."

(यह भी पढ़ें: PeepingMoon Exclusive: 'बिग बॉस 14' के प्रोमो शूट के लिए आज दोपहर मुंबई के फाइव स्टार होटल पहुंचे सलमान खान )

हमारे सूत्र ने निष्कर्ष निकाला है कि "सलमान ने कथित तौर पर किसी भी अप्रिय सिनेरियो से बचने के लिए 28 सितंबर से पहले बिग बॉस 14 के प्रोमो और अन्य महत्वपूर्ण हिस्सों को शूट करने का फैसला किया है."

सलमान ने पहले माफी की अपील की थी जिसे अदालत ने स्वीकार कर लिया था, हालांकि, इस महीने के अंत तक मामले में यह नई सुनवाई होगी. एक्टर की सुनवाई असल में इस साल की शुरुआत में 18 अप्रैल को ही होनी थी, लेकिन महामारी के कारण, इसे अगली नोटिस तक रोका गया.

जो नहीं जानते, उन्हें बता दें कि सलमान पर 26-27 सितंबर 1998 को भवाद गांव में दो चिंकारा और 28 सितंबर, 1998 को मथानिया में एक चिंकारा का शिकार करने के लिए वन्यजीव संरक्षण अधिनियम की धारा 51 के तहत मामला दर्ज किया गया था. इतना ही नहीं उन पर आर्म्स एक्ट के तहत अपराध का भी आरोप लगाया गया था.

Recommended

Loading...
Share