Flashback: जब सरोज खान ने कबूल किया 'श्रीदेवी जैसी कोई नहीं', कहा था- 'वह मेरे लिए बेटी की तरह थीं'

By  
on  

दिग्गज बॉलीवुड कोरियोग्राफर सरोज खान का निधन 3 जुलाई, 2020 को शुक्रवार की सुबह कार्डियक अरेस्ट के कारण हो गया. बता दें कि उन्हें सीने में दर्द की शिकायत के बाद 17 जून को गुरु नानक अस्पताल में भर्ती कराया गया था. उनकी उम्र केवल 72 साल थी. 

सरोज, जिन्हें बॉलीवुड में प्यार से 'मास्टरजी' कहा जाता था, ने 200 से अधिक फिल्मों में काम किया, जिसमे से कइयों को लोगों ने ढेर सारा प्यार दिया. लेकिन उन्हें बतौर इंडिपेंडेंट कोरियोग्राफर के रूप में पहला ब्रेक 1974 में 'गीता मेरा नाम' के साथ मिला था. हालांकि, उसके बाद भी, सरोज जी को 13 साल तक इंतजार करना पड़ा, जिसके बाद उन्हें 'मिस्टर इंडिया' 1987 में आई के गाने 'हवा हवाई' और 'काटे नहीं कटते' के लिए एक अलग पहचान मिली. बता दें कि श्रीदेवी ने सरोज के कोरियोग्राफ किए गए स्टेप्स पर दिल खोलकर डांस किया था और यह बहुत बड़ी सफलता साबित हुई. यह कहना गलत नहीं होगा, श्रीदेवी का सबसे अच्छा काम सरोज खान के साथ था.

(यह भी पढ़ें: कोरियोग्राफर सरोज खान का कार्डियक अरेस्ट से हुआ निधन, इंडस्ट्री को लगा एक और झटका)

आप सभी जानते हैं कि फरवरी 2018 में श्रीदेवी का निधन हो गया था.

इस जोड़ी ने नगीना (1986), चांदनी (1989), और कई और 80 और 90 के दशक की फिल्मों में काम किया, एक समय में बॉलीवुड डांस सीन्स उन्होंने अपनी कोरियोग्राफी से जीत लिया था. यह सरोज जी ही थीं, जिन्होंने 'कामुकता के विचार' को बॉलीवुड में जगह दी थी, किसी छल के बिना.

मिस्टर इंडिया के बाद, मास्टरजी ने श्रीदेवी को फिर से यश चोपड़ा की चांदनी में डायरेक्ट किया, जो फिर सुपरहिट हुई. सरोज जी और श्रीदेवी की तरह कोई साड़ी को इतनी खूबसूरत तरीके से पेश नहीं कर सकता था. दोनों ने मिलकर जुदाई, मिस्टर बेचारा, खुदा गवाह, लम्हे, वतन के रखवाले जैसी फिल्मों के साथ कुछ सफल फिल्में की.

कोरियोग्राफर के अनुसार, जिनका एक्ट्रेस के साथ लम्बा और एक खास जुड़ाव था, ने एक पुराने इंटरव्यू में बताया था, श्रीदेवी चीजों को हल्केफुल्के में नहीं लिया करती हैं और पूरी तरह से अलग-अलग वेशभूषा, विग, और हेयरडोस, और क्रिएटिव आइडियाज के साथ. सरोज ने कहा था, "वह फिल्म पूरी होने के बाद बड़े पर्दे पर क्या दिखाया जायेगा और हर गाने में वह कैसी दिखेंगी उस बारे वह बहुत पर्टिकुलर है. वह शूट पर बहुत सारे सूटकेस के साथ आती है. यहां तक ​​कि अपनी भूमिकाओं के लिए, वह अच्छी तरह से ड्रेस्ड होती है कि वह उस भाग हो हमेशा देख सकें."

हालांकि, फिल्मों में माधुरी दीक्षित के आने से दोनों की दोस्ती में थोड़ी दरार जरूर आ गयी थी, और इस तरह से श्रीदेवी और सरोज जी ने कुछ समय के लिए एक दूसरे के साथ काम करने से ब्रेक लेने का फैसला किया था. बाद में, लगभग एक साल बाद, उन्होंने अपने मतभेदों को सुलझा लिया और पहले से कहीं ज्यादा मजबूत होकर दोनों वापस आए.

जब श्रीदेवी का निधन हो गया, तो सरोज जी का दिल टूट गया था और उन्होंने कहा था, "मैं सबसे भाग्यशाली थी क्योंकि वह इस तरह के बेहतरीन प्रोफेशनल होने के अलावा, एक अच्छी दोस्त भी थी. मुझे अब भी विश्वास नहीं हो रहा है कि वह अब नहीं रहीं. यह बहुत दुखद है. उनके जैसा कोई कलाकार नहीं था, बिल्कुल भी नहीं. वह बेहतरीन इंसान और डांसर थी. वह मेरे लिए बेटी की तरह थी. मैं शॉक्ड हूं और अंदर से दुखी हूं."

उनका संबंध एक मोड़ पर किसी अच्छे दोस्त, को-वर्कर्स और यहां तक कि प्रतिद्वंद्वियों की तरह था. 

आज जब सरोज खान सभी को नम आंखों के साथ पीछे छोड़ गयी हैं, ऐसे में 'सेक्रेड गेम्स 2' के डायरेक्टर नीरज घायवान ने बॉलीवुड की डांसिंग जोड़ी की एक थकाऊ फोटो ट्वीट की और लिखा है, "ये दोनों पहले से ही अपने नए गीत पर हैं! आपको शांति मिले, #SarojKhan!"

(Source: Deccan Chronicle/Hindustan Times) 

Recommended

Loading...
Share