Bhangra Paa Le Review: सनी कौशल की अच्छी एक्टिंग के बावजूद आपके मन को नहीं भाएगी रुखसार ढिल्लन को-स्टारर इस फिल्म की कहानी

By  
on  

फिल्म: 'भांगड़ा पा ले'

कास्ट: सनी कौशल और रुखसार ढिल्लन

निर्देशक: स्नेहा तौरानी

रेटिंग: 2.5 मून्स

डेब्यूटेंट डायरेक्टर स्नेहा तौरानी की फिल्म 'भांगड़ा पा ले' के साथ सनी कौशल और रुखसार ढिल्लन की खूबसूरत जोड़ी ने अपना डेब्यू किया है. इस फिल्म को आप ट्रेडिशनल भांगड़ा के साथ-साथ दुनिया भर के वेस्टर्न डांस से जोड़ने वाला एक सेतु कह सकते हैं. इस म्यूजिकल ड्रामा ने अपने डांस और म्यूजिक से इम्प्रेस किया है, लेकिन दूसरी तरफ कमजोर कहानी से चलते यह अपना जादू चलाने में कहीं न कहीं नाकामयाब रह है. पंजाब और लंदन की कहानी पर सेट यह फिल्म एक देसी और विदेशी म्यूजिकल जर्नी है, साथ ही श्रिया पिलगांवकर की फिल्म में एक स्पेशल भूमिका है.

भांगड़ा पा ले की कहानी जग्गी (सनी कौशल) और सिमी (रुखसार ढिल्लन) के बीच कॉलेज की प्रतिद्वंद्विता के इर्द-गिर्द घूमती है, क्योंकि वे एक इंटरनेशनल डांस प्रतियोगिता के लिए तैयारी कर रहे होते हैं. फिल्म में एक समय में को किरदारों की कहानी दिखाई जाती है, बता दें कि दोनों ही किरदार सनी द्वारा ही निभाए गए हैं. एक किरदार जग्गी का होता है तो दूसरा कैप्टेन सिंह का. जहां जग्गी अपने भांगड़ा के साथ दर्शकों का दिल जीतने के लिए संघर्ष करता है, वहीं उसके दादा कैप्टन सिंह (सनी कौशल) बीते कल में भांगड़ा की मदद से अपने प्यार निमो (श्रिया पिलगांवकर) के प्यार को जीतते हैं. एक तरह से यह एक पंजाबी गानों वाली मिक्स्ड प्रभावशाली भांगड़ा फिल्म है, जो अपने अपनी कमजोर कहानी के कारण पीछे रहती नजर आ रही है. 

पास्ट और प्रेजेंट के समय के रोमांस स भरपूर यह फिल्म भांगड़ा को पसंद करने वाले लोगों के लिए किसी ट्रीट से कम नहीं है. कमजोर कहानी को अगर कोई बचाता नजर आ रहा है तो वह है सनी की एक्टिंग और उनका डांस. रुखसार की बॉलीवुड में एंट्री ख़राब नहीं है. एक्ट्रेस ने फिल्म को अपने चार्म और एनर्जी से सजाया है.

जग्गी और कैप्टन दोनों के रूप में, सनी सरदार के रूप में अपने परफेक्ट लुक केसाथ सभी को इम्प्रेस करते नजर आ रहे हैं. इतना ही नहीं को-स्टार रुखसार के साथ-साथ उनके भंगड़ा मूव्स बेहद प्रभावशाली हैं. सनी की स्क्रीन प्रजेंस, कॉन्फिडेंस और एक्टिंग स्टाइल सभी चीजे अच्छी हैं, लेकिन कहीं न कहीं फिल्म की कहानी उनकी परफॉरमेंस को मैच नहीं करती. परमीत सेठी, श्रिया पिलगांवकर और नैला ग्रेवाल सहित अन्य स्टार्स ने सपोर्टिंग रोल में अच्छी एक्टिंग की है.

JAM8, ऋषि रिच, यश नार्वेकर और ए बज़ द्वारा दिए गए फिल्म के म्यूजिक और गानों को हम एक्स्ट्रा पॉइंट्स दे सकते हैं. इस 2 घंटे 11 मिनट की फिल्म को गाने आपको झेलने में मदद कर सकते हैं. कुछ पॉइंट्स पर गानों को अच्छी तरह से कोरियोग्राफ किया गया है. 11 ट्रैक्स से भी ज्यादा गानों के साथ यह फिल्म कहीं न कहीं गानों की वजह से खड़ी है. फिल्म में सलमान खान और शाहरुख खान के हिट गाने भांगड़ा पा ले को 'करण अर्जुन' फिल्म से रिक्रिएटेड भी किया गया है. फिल्म का सेट, कपड़े और प्रोड्यूक्शन डिज़ाइन बुरा नहीं है. सिनेमैटोग्राफी, साउंड डिज़ाइन और विज़ुअल इफेक्ट्स अच्छी तरह से मेल खाते हैं लेकिन यह फिल्म की कहानी है जो उसे पीछे धकेल दे रही है.

(Source: Peepingmoon)

Recommended

Loading...
Share