Oscar 2021: एकेडमी अवॉर्ड्स की जनरल कैटेगरी में हुई उड़िया फिल्म 'कलिरा अतिता' की एंट्री, डायरेक्टर नीला माधब पांडा ने कहा- 'शुक्रिया'

By  
on  

93वे एकेडमी अवार्ड्स इस साल के मोस्ट अवेटेड फंक्शन में से एक है. पहले ये अवार्ड फंक्शन्स 28 फरवरी को होने वाला था, लेकिन कोरोना के चलते इसे 25 अप्रैल तक के लिए स्थगित कर दिया गया है. भारत की तरफ से नीला माधब पांडा की 'कलिरा अतिता' फिल्म ऑस्कर 2021 के लिए नॉमिनेट हुई है. उड़िया फिल्म  'कलिरा अतिता' एकेडमी अवॉर्ड्स 2021 की जनरल कैटेगरी में शामिल हो गई है. इसकी जानकारी नीला ने अपने सोशल मीडिया अकाउंट पर शेयर की है. यह फिल्म भारत के पूर्वी तटीय इलाकों यानी उड़ीसा से गायब होते गांवों की कहानी है, जो जलवायु परिवर्तन के कारण बढ़ रहे समुंदर के पानी कारण गायब हो रहे हैं. 

फिल्ममेकर नीला माधब पांडा ने इंस्टाग्राम पर लिखा है कि, 'चुनौतियों से भरे साल में यह बताते हुए बहुत खुशी हो रही है कि कलिरा अतिता ने ऑस्कर की जनरल कैटेगरी में एंट्री कर ली है. यह एकेडमी स्क्रीनिंग के लिए तैयार है. हर किसी का शुक्रगुजार हूं. न्यूयॉर्क और लॉस एंजिल्स में थिएटर बंद होने के कारण यह बहुत मुश्किल था कि हम क्वॉलिफाइ कर सकें. हमने पब्लिसिटी करना शुरू किया और ज्यूरी तक पहुंचे, ताकि उन्हें फिल्म दिखा सकें.'

93rd Academy Awards Shortlist: मलयालम फिल्म 'जल्लीकट्टू रेस से हुई बाहर, 10 बेस्ट लाइव एक्शन शॉर्ट फिल्म में 'बिट्टू' शामिल

'कलिरा अतिता' से पहले करिश्मा देव दुबे की 'बिट्‌टू' भी ऑस्कर में जगह बना चुकी हैं.  बिट्टू बिहार में एक सरकारी स्कूल में हुई आकस्मिक विषाक्तता की एक वास्तविक घटना से प्रेरित है. इसमें रानी कुमारी और रेणु कुमारी हैं.ऑस्कर के फाइनल नॉमिनेशन के अनाउंसमेंट 15 मार्च को किए जाएंगे. जबकि अवॉर्ड सेरेमनी 25 अप्रैल को होगी. भारत की ओर से आधिकारिक एंट्री 'जल्लीकट्‌टू' इसके पहले हुई ऑस्कर की रेस से बाहर हो गई थी. ‘जल्लीकट्टू’ को 93rd अकाडमी अवॉर्ड्स में बेस्ट इंटरनेशनल फीचर फिल्म कैटेगरी के लिए चुना गया था. लेकिन ये फिल्म रेस से बाहर हो गई है. फिल्म का नाम शॉर्टलिस्ट की गई लिस्ट में शामिल नहीं है. इस फिल्म के लिजो जोस पेल्लिसेरी ने डायरेक्टर किया था. फिल्म की कहानी कलन वर्की एक कसाई के उपर है. जो भैंसों को काटता है. पूरा गांव उसी के काटे हुए मीट पर निर्भर है. तभी वहां से एक उत्पाती भैंसा भाग जाता है और फिर उसे पकड़ने के लिए पूरा गांव लग जाता है. फिल्म में इसके साथ ही कई साइड स्टोरी भी चलती हैं जिसमें गांव की गरीबी, अशिक्षा, बेरोजगारी जैसी समस्याओं को उठाया गया है. फिल्म में एंटोनी वर्गीज, चेंबन विनोद जोस, सैंथी बालाचंद्रन एक्टर्स ने लीड रोल निभाया है. 

(Source: Instagram)

Recommended

Loading...
Share