डॉक्टर्स का मजाक उड़ाना पड़ा सुनील पाल को महंगा, अंधेरी पुलिस स्टेशन में दर्ज हुआ मामला

By  
on  

कॉमेडियन सुनील पाल के खिलाफ मुंबई के अंधेरी पुलिस स्टेशन में केस दर्ज हुआ है। उन पर फ्रंटलाइन पर काम करने वाले डॉक्टर्स का मजाक उड़ाने और उनके खिलाफ अपमानजनक शब्दों का इस्तेमाल करने का आरोप है। आरोप है कि सुनील पाल ने अपनी वेबसाइट पर अपलोड एक वीडियो में डॉक्टरों पर COVID संकट की आड़ में मानव तस्करी का भी आरोप लगाया है।

वायरल हुए वीडियो में कॉमेडियन सुनील पाल ने मज़ाक़ उड़ाते हुए कहा था कि, 'डॉक्टर भगवान का एक रूप होते हैं, लेकिन 90 प्रतिशत डॉक्टरों ने दानव का रूप धारण कर लिया है। मरीजों से धोखाधड़ी की जा रही है। गरीब लोगों को डराया जा रहा है। पूरे दिन COVID के नाम पर उन्हें परेशाना किया जा रहा है। उन्हें यह कहकर परेशान किया जाता है कि कोई बेड नहीं है, कोई प्लाज्मा नहीं है, कोई दवा नहीं है।"

(यह भी पढ़ें: 'कुमकुम' फेम एक्‍टर अनुज सक्सेना पर न‍िवेशकों के साथ 141 करोड़ रुपए की धोखाधड़ी करने का लगा आरोप, हुए गिरफ्तार ?)

सुनील पाल ने अपने वीडियो में आगे कहा है, "लोगों को जबरदस्ती कोविड पॉजिटिव बता कर भर्ती किया जा रहा है। मरीज की मौत के बाद भी उनके नाम पर बिल बनाया जा रहा है। उनके मरने के बाद उनके बॉडी पार्ट्स निकाल कर तस्करी की जा रही है।"

वीडियो के वायरल होने के तुरंत बाद सुनील पाल ने एक और वीडियो जारी कर कहा कि उन्होंने सभी डॉक्टरों पर निशाना नहीं साधा था। अगर मेरे बयानों से डॉक्टरों को ठेस पहुंची है, तो मैं माफी मांगता हूं और अपने शब्दों को वापस लेता हूं। 

डॉक्टर्स के एक ग्रुप ने अंधेरी पुलिस स्टेशन जाकर मामले में कंप्लेंट दर्ज करवाई थी। अब इसी मामले में जांच के बाद आईपीसी की धारा 500(मानहानि) और धारा 505 (2) के तहत केस दर्ज किया है।

Recommended

Loading...
Share