EXCLUSIVE: 'महाभारत' के री-रन पर सौरभ राज जैन ने की बात, नीतीश भारद्वाज संग अपने कृष्णा के किरदार की तुलना को माना बड़ा सम्मान

By  
on  

दूरदर्शन पर लॉकडाउन के दौरान दर्शकों के मनोरंजन का ध्यान रखते हुए कई पौराणिक शो शुरू किये जा चुके हैं, ऐसे में अब स्टारप्लस पर भी नए जमाने के 'महाभारत' को री-रन किया जा रहा है. बी आर चोपड़ा के 'महाभारत' के बाद दर्शकों के लिए अब इस 'महाभारत' को भी फिर छोटे पर्दे पर देखना दिलचस्प होने वाला है. ऐसे में PeepingMoon ने शो में कृष्णा का किरदार निभा चुके, एक्टर सौरभ राज जैन से इस बारे में एक्सक्लूसिव बातचीत की, जिसमे एक्टर ने शो के री-रन से लेकर अपने किरदार को चुनने के बारे में कई सारी बाते की. तो चलिए आपको बताते हैं एक्टर ने क्या कहा.

प्र: शो का फिर से री-रन होना, आपको कैसा लग रहा है?

उ: बहुत अच्छा लग रहा है, अपने शो को दुबारा टीवी पर देखने में, क्योंकि महाभारत, महादेव और महाकाली यह तीनो शो फिर से दिखाए जा रहे हैं. तो कई बार हम शूट करने की वजह से अपने शो खुद नहीं देख पाते, क्योंकि शूट में इतना बिजी रहते हैं. फैमिली के साथ तो बिलकुल देखने का समय नहीं मिलता क्योंकि इसकी शूटिंग ज्यादातर आउट डोर उमरगांव में हुआ करती थी. तो अब मौका मिला है, पूरी फॅमिली साथ में बैठ कर शो देखती है बहुत अच्छा लगता है. 

प्र: बी आर चोपड़ा के चल रहे 'महाभारत' के बाद अब आपके 'महाभारत' का आना क्या दर्शकों में उलझन पैदा कर सकती है?

उ: फिलहाल वही शो दिखाए जा रहे हैं, जिन्हे सबसे ज्यादा पसंद किया जाता है. तो बी आर चोपड़ा जी की महाभारत अपने समय पर खूब पसंद की गयी थी, आज तक किया जाता हैं. वहीं, जब हमारी महाभारत आई थी तब लोगों ने उसे बहुत पसंद किया था और वहीं वजह है कि उसे फिर से चलाया जा रहा है. तो कंटेंट अच्छा होतो वो जरूर देखेंगेम भले ही वो नया हो या फिर पुराना हो. यहां पर कोई कॉम्पिटिशन और कंपैरिजन वाली बात नहीं है.

प्र: नितीश भारद्वाज जिन्होंने बी आर चोपड़ा के 'महाभारत' में कृष्णा का किरदार निभाया था, उन्ही की तरह फैंस आपके किरदार को भी देखते हैं.

उ: मैं नितीश जी से अपनी तुलना किया जाना बड़े सम्मान की बात समझता हूं. मैं खुद उनका बहुत बड़ा फैन हूं. कोई अगर मुझे उनके साथ कंपैर करता है तो वो मेरे लिए बहुत बड़ा कॉम्पलिमेंट है.

प्र: शो से जुड़ा किस्सा ?

उ: हां, शूटिंग के दौरान जब भी कृष्णा ज्ञान का सीक्वेंस होता था, तब वृन्दावन का जो सेट लगा था उसमे कई बार कबूतर, खरगोश और डक लाये जाते थे, उस क्रिएट करने के लिए. तो कई बार जो डक्स यानी बदक हुआ करती थी, वो बहुत ज्यादा क्वेक क्वेक किया करती थी. तो शूट करने में काफी प्रॉब्लम होता था. इस वजह से बार बार री टेक करना पड़ता था. लेकिन एक समय ऐसा आया जब मैं समझ गया था कि कब ये बोलना शुरू करने वाली हैं और तब मैं ही चुप हो जाता था. ऐसे वो पहले बोल लेती थीं और तब मैं अपना कंटिन्यू करता था. तो इस तरह से एक मजेदार चीज हुआ करती थी.

प्र: कृष्णा के अलावा आपको अगर मौका मिलता तो आप कौन सा किरदार निभाना पसंद करते?

उ: बहुत ही ईमानदारी से कहना चाहूंगा कि मुझे शो के लिए दो किरदार ऑफर हुए थे, जिस में से मेरा मन कृष्णा का किरदार करने का ही था और मैंने उसे चुना. हालांकि मैं उस किरदार के नाम से पर्दा नहीं उठाऊंगा. शो के सारे किरदार अपनी अपनी जगह पर अच्छे हैं लेकिन कहीं न कही मेरे दिल में ये थे कि मुझे कृष्णा का किरदार ही करना है.

प्र: महाभारत से मिली कोई एक सीख जो अपने सीखी और अपने फैंस को बताना चाहते हैं?

उ: कृष्णा की जो मूर्ति और जो पेंटिंग्स होती हैं, उसमे हम हमेशा उन्हें हंसते हुए देखते हैं. तो एक सीख मुझे उस दौरान मिली की शायद कृष्णा हमें ज्ञान देना चाहते हैं कि कोई भी रुकावट आये आपकी लाइफ में कोई भी मुश्किल आये, जो आएंगी ही सबके लाइफ में आती हैं, लेकिन आप उसे मुस्कुराते हुए भी पार कर सकते हो जरुरी नहीं ही हमेशा आप मायूस रहें.

प्र: लॉकडाउन के दौरान फैंस के लिए मैसेज?

उ: जो सरकार के निर्देश हैं उन्हें फॉलो करें जैसे मास्क पहनना, साफ़ सफाई रखना, बाहर नहीं जाना पूरी तरह से लॉकडाउन में रहना. अगर बहुत जरुरी है तो भी बहार जाएं और जरुरी न होतो घर पर ही रहें. हमें दूसरे देशो की स्थिति से इस समय सीखना चाहिए.

(Source: PeepingMoon)

Recommended

Loading...
Share