Exclusive: क्या तिग्मांशु धूलिया के साथ डकैत ड्रामा करेंगे इरफान?

By  
on  

बॉलीवुड में अपनी एक्टिंग के लिए जाने जानें वाले इरफान खान के बारे में हमने बताया था कि एक्टर ने लंदन में होमी अदजानिया की फिल्म 'अंग्रेजी मीडियम' को रैप कर लिया है. जिसके बाद वह पत्नी सुतापा और दोनों बेटों बबील और अयान के साथ गर्मियों की छुट्टियों पर थे. एक्टर लंदन के ऐतिहासिक नुक्कड़ और गलियों को एक्सप्लोर कर, वहां वेस्ट एंड पर सभी नाटकों को देखने में व्यस्त थे, जैसे कि उन्हें दुनिया की परवाह नहीं और न ही किसी और फिल्म को करने की.

तो आपको बता दें कि यह बिलकुल सच नहीं है. PeepingMoon.com को मिली खास जानकारी के मुताबिक, इरफान की तीन फिल्मों के लिए बात चल रही है, लेकिन उनमें से किसी पर भी अभी तक निर्णय नहीं लिया गया है. इनमे से एक 'जजमेंटल है क्या' के प्रोड्यूसर शैलेश आर सिंह हैं. इरफान ने शैलेश के ऑफिस का दौरा किया था , जहां उन्होंने फिल्म की स्क्रिप्ट सुनी और उसे पसंद भी किया. उसी समय एक्टर एक बड़े बैनर के साथ भी मिले और उनके साथ भी एक प्रोजेक्ट को लेकर बात की. लेकिन वह तीसरी फिल्म है, जिसमे 'अंग्रेजी मीडियम' के बाद एक्टर द्वारा काम शुरू करने की संभावना है.

(यह भी पढ़ें: सलमान खान नहीं बल्कि इरफान या रणदीप हुड्डा होते चुलबुल पांडे, अरबाज खान ने खोले सालों पुराने राज)

यह प्रोजेक्ट तिग्मांशु धूलिया का है, जिनके साथ इरफान पहले भी 'पान सिंह तोमर' (2012) और 'साहेब, बीवी और गैंगस्टर रिटर्न्स' (2013) में काम कर चुके हैं. उनकी यह फिल्म कुख्यात डकैत शिव कुमार पटेल पर है, जिसे ददुआ के नाम से जाना जाता है. वह मॉडर्न डे का रॉबिन हुड था, जिसका यूपी और एमपी के 500 से अधिक गांवों और 10 विधानसभा क्षेत्रों में बोलबाला था. उनकी सत्ता का शासनकाल ऐसा था कि राजनेताओं को इनमें से किसी भी निर्वाचन क्षेत्र में चुनाव जीतने के लिए उनके आशीर्वाद की आवश्यकता पड़ती थी. 

वीरप्पन की तरह ददुआ हत्या, जबरन वसूली और अपहरण जैसे अपराधों में वांटेड था. उसके आतंक के तीन दशक लंबे शासनकाल में उसके खिलाफ 200 से अधिक आपराधिक मामले दर्ज किए गए थे. तिग्मांशु चाहते हैं कि इरफान खूंखार डाकू का किरदार निभाएं. वह इरफान के साथ इस फिल्म के बारे में उनके ब्रिटेन से लौटने के बाद से ही चर्चा कर रहे थे. इरफान ने कथित तौर पर तिग्मांशु को मौखिक रूप से फिल्म के लिए हां कर दी है, लेकिन स्क्रिप्ट पूरी होने के बाद अंतिम निर्णय लिया जायेगा. जो कि इस महीने के अंत तक होना चाहिए.

फिल्म ददुआ की बदनामी से लेकर कानून के साथ उसके संघर्ष, उसकी प्रभावशाली राजनीतिक शक्ति और कैसे जुलाई 2007 में चित्रकूट के जंगलों में उसे मार गिराया गया इसपर ध्यान केंद्रित करेगी. फिल्म में स्पेशल टास्क फोर्स एसएसपी अमिताभ यश का किरदार निभाने के लिए भी एक और लीड हीरो होगा, जिन्होंने इस भयंकर एनकाउंटर का नेतृत्व किया था. मप्र सरकार ने कथित तौर पर 1982 से ददुआ के खिलाफ विभिन्न अभियानों पर 100 करोड़ खर्च किये. PeepingMoon.com के सूत्रों का कहना है कि इरफान ने फिल्म में डकैत का किरदार निभाने की सोची है.

(Source: Peepingmoon)

Recommended

Loading...
Share