A Blast from The Past: मदर्स डे पर नीतू कपूर की सलाह- 'बच्चे कितने भी बड़े हो जाएं, मां को उनसे जुड़े रहना चाहिए'

By  
on  

ये साल 2009 के मदर्स डे की बात है, जब बॉलीवुड की सबसे प्यारी मांओं में से एक नीतू कपूर अपने 27 साल के बेटे रणबीर कपूर के साथ बॉम्बे टाइम्स के ऑफिस में मदर्स डे के इशू के लिए आई थीं, तब मैं एडिटर हुआ करता था. तब मैंने एडिटर के जूते में कदम रखने के लिए एक्टर्स को आमंत्रित करने का अभ्यास शुरू किया था और हमारे न्यूज़ रूम में स्टार्स के साथ रीडर्स के लिए कुछ खास लेकर आता था.

मदर्स डे के मौके पर बात करने के लिए नीतू तुरंत राजी हो गई, इतना ही नहीं वह अपने साथ बेटे रणबीर को भी लेकर आईं. उन्होंने इस दौरान उन मुद्दों के बारे में बात की थी, जिनमे 21 वीं सदी की मां को हर पल के बारे में पता होना चाहिए, जिसपर रणबीर ने  गंभीरता से अपना सर हिलाया था. आप सभी जानते हैं कि नीतू अपने दोनों बच्चों से कितना प्यार और उनकी केयर करती हैं.

(यह भी पढ़ें: ऋषि कपूर के तकलीफों के बीच चट्टान की तरह थीं पत्नी नीतू कपूर; इरफान के लिए योद्धा बन बैठी थी सुतापा)

नीतू ने सभी बातें स्वाभाविक रूप से कीं - वह गेस्ट एडिटर थीं, जैसे की यह मदर्स डे इशू था, वहीं रणबीर उनका पूरा साथ देते नजर आये थे. नीतू ने कहा, "आज की मां की नौकरी 30 साल पहले की तुलना में अलग नहीं है." उन्होंने 1978 में 'धन दौलत' के बाद काम करना बंद कर दिया था, शादी करने, घर संभालने और अपने पति ऋषि कपूर के साथ एक परिवार शुरू करने का बड़ा फैसला लिया था.

उन्होंने अपने इस फैसले को समझाते हुए कहा, "मैं घर पर रहना चाहती थी और बच्चों के साथ जुड़ना चाहती थी. मेरे बच्चे मुझे हर तरह से जानते हैं. एक मां के लिए यह महत्वपूर्ण है कि वह अपने बच्चों से बात करे, क्योंकि आज मेरे बच्चे मेरे बारे में हैं.मैं उन्हें बता सकती हूं कि उन्हें बढ़ते समय क्या करना है, खासकर मेरी बेटी - क्योंकि मेरा बेटा जानता था कि एक दिन वह एक आदमी बनेगा, लेकिन मैं उनके साथ जबरदस्ती नहीं कर सकती.  

नीतू ने शुरुआती दिनों में रिद्धिमा और रणबीर से जो बात की, वह आज भी एक मां के लिए चिंता बनी हुई है. वे कहती हैं, "ड्रग्स, डेट रेप, अनचाहे गर्भ की जांच, यौन शिक्षा." जिसके बाद अचानक उन्होंने याद कर कहा, "मोटापा और सही खानपान की आदतें. इस चीज के लिए रणबीर  ने मुझसे जरूर नफरत की होगी क्योंकि मैं हमेशा उसे बताती रहती थी कि क्या खाना है और क्या नहीं. वह एक कपूर है, वे खाना पसंद करते हैं, लेकिन आज मेरे बच्चे अपना सही खाना जानते हैं."

नीतू ने रिद्धिमा के लंदन में पढ़ने के समय हुई डेट रेप (लड़की के ड्रिंक में बेहोशी की दवा मिला उसके साथ रेप किया गया था) की घटना को याद कर बताया कि वह किस तरह चिंतित हो गयी थीं. जिसपर नीतू ने कहा, "आज तक मेरी बेटी ने किसी से ड्रिंक नहीं लिया करती." नीतू अपने बच्चो को बचपन से ही क्या सही है और क्या गलत है, इस बारे में समझाती थी.

नीतू ने मांओं को सलाह दी थी कि "आप अपने बच्चों को गलतियां करने दें ताकि वह उसे कर उससे सबक लें और आगे चलकर एक अच्छा इंसान बने." उन्होंने यह भी कहा कि "मांओं को अपने बच्चों को थैंक यू कहना और अच्छे लोगों के साथ मुस्कुराकर पेश आने की आदत भी सिखानी चाहिए, इससे उनके अंदर की अच्छाई बाहर झलकती है."

उन्होंने एक और टिप देते हुए कहा था, "अपने बच्चों संग जुड़े रहें, वो गलत जा सकते हैं- चाहे वो कितने भी बड़े क्यों न हो जाएं. मुझे पता है आज कल बहुत सारे लोग ड्रग्स लेते हैं. वे आपके जीवन को बर्बाद कर रहे हैं. आदत में पड़ना आसान है, लेकिन किसी को नहीं पता कि इससे कैसे बाहर निकला जाए. सेक्स एजुकेशन, एड्स के प्रति जागरूकता, एक मां के लिए अपने बच्चों के साथ साझा करना बहुत जरुरी है. यह जरुरी लेकिन ऐसे मुद्दे हैं, जिनपर लोग बच्चों संग चर्चा करने से बचते हैं."

आखिर में रणबीर के बालों को छूते हुए नीतू ने बच्चों के लिए सलाह दी. उन्होंने कहा, "बूढ़े लोग, आपके माता-पिता, यह अकेले नहीं रह सकते. उनका ध्यान रखा जाना चाहिए. अगर यह मदद की जा सकती है तो, कम से कम एक बच्चा उनके बुढ़ापे में उनके साथ होना चाहिए. जिसपर मस्तीभरे अंदाज में रणबीर ने कहा, "मुझे खुशी है कि मॉम के लीडिंग मैन डैड हैं. नहीं तो मुझे इससे बहुत नफरत होती." जिसपर जवाब देते हुए नीतू कहती हैं, "Mama’s boy."

(Transcripted by: Nutan Singh)

(Source: PeepingMoon)

 

Recommended

Loading...
Share