PeepingMoon Exclusive: सुशांत सिंह राजपूत की ऐसे बीती थी आखिरी रात, रिया को फोन करने के ठीक 12 घंटे बाद मौत को लगाया गले!

By  
on  

ये कहना गलत नहीं होगा कि सुशांत सिंह राजपूत कल रात निराशा, दुख और कुछ चिंतित होंगे. पहले से ही डिप्रेशन का शिकार एक्टर कथित तौर पर इसका इलाज करवा रहे थे. ऐसे में एक्टर ने रात 1 बजकर 47 मिनट पर एक्ट्रेस रिया चक्रवर्ती को कॉल किया था. हालांकि, एक्ट्रेस से एक्टर का कॉल मिस हो गया. सुशांत के कॉल डेटा रिकॉर्ड से पता चलता है कि उन्होंने रात में 1बज कर 51 मिनट पर दोस्त महेश शेट्टी को फोन किया था. एक्टर को उनसे भी कोई जवाब नहीं मिला और वह एक्टर के फ़ोन से किया गया आखिरी कॉल था. 

यह पता नहीं चल पाया है कि सुशांत किस समय सो गए. लेकिन जैसा कि उनकी आदत थी, एक्टर सुबह 6 बजे उठते थे और अनार का जूस पीते थे. 9 और 11 के बीच, सुशांत नाश्ते के लिए क्या चाहते हैं बताया करते थे, बिहार के रहने वाले नीरज उन्हें खाना खिलते थे. लेकिन जब नीरज ने आज सुबह 10 बज कर 21मिनट पर सुशांत के बेडरूम का दरवाजा खटखटाया, तो उन्हें अंदर से कोई जवाब नहीं मिला.  नीरज के अलावा, केशव के नाम से एक और बिहारी रसोइया भी था जो सुशांत के साथ रह रहा था. और एक्टर  के दोस्त और आर्ट डिजाइनर सिद्धार्थ पिठानी और उनके क्लीनर दीपक सावंत इसमें शामिल हैं.  

(यह भी पढ़ें: PeepingMoon Exclusive: सुशांत सिंह राजपूत ने कथित तौर पर रिया चक्रवर्ती को किया था अपना आखिरी कॉल, एक्ट्रेस से नहीं मिला था जवाब)

सिद्धार्थ सुबह 11 बजकर 21 मिनट पर उठे और सुशांत के दरवाजे पर दस्तक दी. जवाब नहीं मिलने पर, उन्होंने सुशांत के सेल फोन पर कॉल किया. लेकिन वे फोन को सिर्फ रूम के अंदर सुन सकते थे. 11 बजकर 47 मिनट पर, घरवालों ने सुशांत की बहन मीतू को बुलाने का फैसला किया, जो मुंबई में रहती हैं. जब तक मीतू मोंट ब्लांक पहुंचती, तब तक अपार्टमेंट के केयरटेकर फ्रांसिस ने एक मास्टर की से दरवाजा खोलने की कोशिश करनी शुरू कर दी. एक्टर के साथ कुछ हुआ है इस बात का संदेह करते हुए घरवालों ने 100 डायल किया और पुलिस को भी बताया. 

उसी समय, एक्टर के जीजा, जो हरियाणा में एक प्रभावशाली आईएएस अधिकारी हैं, के बारे में माना जाता है कि उन्होंने मुंबई पुलिस आयुक्त परमबीर सिंह को मोंट ब्लांक में चल रहे मामले के बारे में सूचित किया. पुलिस के साथ, कुछ ज्यादा बुरा होने के डर के कारण एक एम्बुलेंस को भी मौके पर बुलाया गया था. ऐसे में पुलिस 12 बजकर 22 मिनट पर मोंट ब्लांक पहुंची. जिसके बाद उन्होंने 12 बजकर 48 मिनट पर बैडरूम का दरवाजा तोड़ा. जहां सुशांत को हरे रंग की चादर से छत के पंखे से लटका पाया गया. सुशांत के वजन से पंखा  नीचे झुक गया था और सुशांत के पैर बिस्तर पर थे. उनकी बॉडी को नीचे लाने में तीन लोग लगे. घटनास्थल पर पहुंचे डॉक्टर ने उन्हें मृत घोषित कर दिया.

(Transcripted By: Nutan Singh)

Recommended

Loading...
Share