PeepingMoon Exclusive: सुशांत के रूम में मिले रेड बैग की मिस्ट्री सुलझी, दोस्त महेश शेट्टी का नहीं दिवंगत एक्टर की बड़ी बहन मीतू का है ये बैग

By  
on  

सुशांत सिंह राजपूत के सुसाइ़ड से मरने के एक महीने बाद, सुशांत के बेडरूम में मिले लाल बैग को लेकर बना रहस्य का सच आखिरकार सामने आ ही गया है. बॉलीवुड एक्टर की मौत की इंवेस्टिगेशन कर रही पुलिस ने ये खुलासा किया है. 

रेड बैकपैक, उसी कमरे में एक साइड टेबल पर देखा गया था जहां सुशांत ने 14 जून को सुसाइड कर अपनी लाइफ खत्म कर दी थी. वहीं उस बैग को देखकर सोशल मीडिया पर बहुत अटकलें लगाई गईं थी. खासतौर पर इसलिए क्योंकि सुशांत के क्लोज फ्रेंड महेश शेट्टी की एक पुरानी पिक्चर सामने आई थी जिसमें वो सेम ऐसे ही रेड बैग के साथ थे.
 

सुशांत के कई फैंस जो एक्टर के सुसाइड को लेकर कई गलत अफवाहें फैला रहे हैं और कई लोगों को भड़का रहे हैं. ऐसे ही कुछ लोगों ने एक्टर के सुसाइड को लेकर महेश शेट्टी पर भी जमकर निशाना साधा और यहां तक की सुशांत की आत्महत्या को लेकर महेश पर सवाल तक उठा दिए.  

Recommended Read: मैंने सुशांत को न तो किसी फिल्म से हटाया और न ही उन्हें रिप्लेस किया- संजय लीला भंसाली  

महेश, जो कि सुशांत के क्लोज दोस्तों में से एक थे ...या ये कहा जाए कि सुशांत का एकमात्र भरोसेमंद दोस्त थे. सुशांत ने अपने फोन को स्विच ऑफ करने और अपने आप को बेडरूम में लॉक्ड करने से पहले, एक्टर ने आखिरी बार महेश को 14 जून की सुबह कॉल किया था. 

वही पुलिस को सुशांत के कॉल रिकॉर्ड से ये पता चला है कि सुशांत ने फोन किया था पर ये कॉल कनेक्ट नहीं हो पाई थी...महेश फोन पिक नहीं कर पाए थे. वहीं कॉल को लेकर फिर उसके बाद, वहीं इस संदिग्ध लाल बैग को लेकर...सुशांत की सुसाइड से गुस्से में आए फैंस ने महेश शेट्टी को आड़े हाथों लिया. 

सुशांत के सैकड़ों फैंस ने महेश पर सोशल मीडिया पर आरोप लगाया कि वे सुशांत की 'हत्या' में शामिल थे और महेश पर सुशांत को डबल क्रॉस और बैकस्टैब करने के आरोप लगाते हुए गंभीर परिणाम भुगतने की धमकी तक दे डाली था. 
 

महेश, जिन्होने पुलिस की इंवेस्टिगेशन में पूरा सहयोग दिया.. इन आरोपों को लेकर दुविधा में हैं. वहीं अब पुलिस ने सुशांत के बेडरूम में मिले रहस्यमयी लाल बैग के असली मालिक का पता लगा लिया है. 
 

यह बैग दिवंगत एक्टर सुशांत की बड़ी बहन मीतू का है. जो सुशांत की आत्महत्या का पता चलने के बाद सुशांत के घर पहुंचने वाली पहली फैमिली मेम्बर में से एक थी और उन्होने ही पुलिस को कॉल किया था.  
 

ऐसा माना जाता है कि जैसे ही मीतू सुशांत के घर पहुंची उन्होने अपना बैग साइड में रखा और सुशांत के पास पहुंच गई. लाल बैग कई तस्वीरों में दिखाई दिया और इसी तरह की एक तस्वीर बाद में महेश के साथ मिली थी जिसके चलते ये सारी बातें होने लगी.

 

Recommended

Loading...
Share