Birthday Special: राज मेहता की 'गुड न्यूज' हो या जगन शक्ति की 'मिशन मंगल', इन डेब्यूटेंट डायरेक्टर्स को मिला जब अक्षय कुमार का साथ तो बॉक्स ऑफिस पर मच गया धमाल

By  
on  

बॉलीवुड के सबसे फिट एक्टर में से एक खिलाड़ी कुमार यानी अक्षय कुमार 9 सितंबर को अपना 53वां बर्थडे सेलिब्रेट कर रहे हैं. 1967 को अमृतसर में जन्मे अक्षय कुमार का वास्तविक नाम राजीव हरीओम भाटिया है. उनके पिता एक आर्मी अफसर थे बाद में अकाउंटेंट की नौकरी करने लगे. कुछ समय बाद अक्षय का परिवार मुंबई शिफ्ट हो गया. अक्षय बॉलीवुड के ऐसे इकलौते हीरो हैं जिन्हें इंडस्ट्री में खिलाड़ी कुमार कहा जाता है. ऐसा इसलिए क्योंकि वह ज्यादातर फिल्मों में स्टंट सीन खुद करना पसंद करते हैं. अक्षय ताइक्वांडो में ब्लैक बेल्ट हैं. कहा जाता है कि फिल्मों में आने से पहले अक्षय ने बैंकॉक में 'मुए थाई' भी सीखी थी. यह थाईलैंड का एक कठिन मार्शल आर्ट है जिसमें भिन्न तकनीकों के साथ खड़े होकर प्रहार किये जाते हैं.

फिल्मों में आने से पहले अक्षय ने बैंकॉक में शेफ और वेटर की नौकरी भी की थी. अक्षय ने फिल्म 'सौगंध' से बतौर हीरो बॉलीवुड में एंट्री ली। अक्षय फिर धीरे-धीरे बॉलीवुड के स्टार बनते गए. उन्हें एक साथ कई फिल्मों के ऑफर आने लगे। 1994 में तो ये हाल था कि अक्षय कुमार की 11 फिल्में रिलीज हुई थीं. इसके बाद अक्षय ने कभी पीछे मुड़कर नहीं देखा.  अक्षय ने अपने करियर में कई हिट फिल्में दी हैं. ऐसा नहीं है कि अक्षय कुमार की फिल्में तभी हिट हुई जब उन्होंने जमे जमाए डायरेक्टर्स के साथ काम किया. अक्षय ने कई डेब्युटेंट डायरेक्टर्स की पहली फिल्मों में काम किया है और यह फिल्में सुपर डुपर हिट भी रही हैं. अक्षय कभी भी नए निर्देशकों के साथ काम करने से पीछे नहीं हटें. सुपरस्टार ने हमेशा नए आइडियाज और लीक से हटकर कहानियों को किया सपोर्ट है. अक्षय ने अपने करियर में 21 डेब्युटेंट डायरेक्टर्स के साथ काम किया है और उनमें से सुपरस्टार की ज्यादातर फिल्मों ने बॉक्स ऑफिस पर धमाका मचा दिया. आज हम अक्षय कुमार के जन्मदिन के मौके पर डेब्युटेंट डायरेक्टर्स के साथ अक्षय की कुछ ऐसी ही सुपरहिट फिल्मों की बात करेंगे. 

Recommended Read: Happy Birthday Akshay Kumar: खिलाड़ी कुमार के ये 25 टॉप मोस्ट फ़िल्मी डायलॉग उन्हें बनाते हैं सुपरस्टार

राज मेहता, गुड न्यूज (2019)
साल 2019 में आई ये फिल्म डायरेक्ट राज मेहता की पहली डायरेक्ट की गई फिल्म थी. ये फिल्म भले ही स्पर्म एक्सचेंज के विषय पर है लेकिन पूरी फिल्म में किसी भी तरह की अश्लीलता नहीं दिखाई गई है. फिल्म बेहद साफ सुथरी है. न फूहड़ता है और न ही ये फिल्म जरा भी लो ग्रेड लगती है. फिल्म में हंसी मजाक के साथ-साथ ड्रामा भी है. अक्षय कुमार के शानदार कॉमिक टाइम ने फैंस को एक बार फिर अपना दिवाना बना दिया था.


जगन मोहन शक्ति, मिशन मंगल (2019)
ये फिल्ममेकर जगन मोहन शक्ति की पहली फिल्म थी. जिसमें पहले ही प्रयास में मंगल ग्रह तक पहुंचने के लिए बनी टीम को फिल्म के माध्यम से दिखलाया गया था. साइंटिस्ट राकेश धवन का किरदार निभाने वाले अक्षय कुमार ने एक बार फिर अपनी एक्टिंग से दर्शकों का दिल जीता था. ये फिल्म फैंस को इसलिए भी रोचक लगी थी क्योंकि मंगल ग्रह पर भारत की सफलता से उन्हें नई कहानी देखने को मिली थी. 

शिवम नायर, नाम शबाना (2017)
अक्षय कुमार के बैनर तले बनी फिल्म 'नाम शबाना' की बात करें तो यह फिल्म उनकी बॉक्स ऑफिस पर हिट रही फिल्म 'बेबी' का प्रीक्वल थी. यानी इस फिल्म की कहानी 'बेबी' से आगे की नहीं बल्कि 'बेबी' से पहले की. फिल्म में तापसी पन्नू को एक खास मिशन के लिए ट्रेंड करने के बाद मलेशिया भेजा जाता है, जहां उसका सामना दुनिया के कई आतंकी संगठनों को खतरनाक हथियारों की सप्लाई करने वाले टोनी उर्फ मिखाइल से होता हैं. यहां शबाना की मदद टास्क फोर्स का जांबाज ऑफिसर अजय (अक्षय कुमार) और शुक्ला जी (अनुपम खेर) करते है. 

टीनू सुरेश देसाई, रुस्तम (2016)
मर्डर मिस्ट्री, सस्पेंस, थ्रिलर से भरपूर इस फिल्म में अक्षय कुमार एक इंडियन नेवी के कमांडर रुस्तम पावरीनेवी ऑफिसर के किरदार में थे. सच्ची घटना पर आधारित इस मर्डर मिस्ट्री को देश का पहला ऐसा केस माना जाता है जब राजनेताओं के साथ-साथ दो अलग-अलग कम्युनिटी के लोग इस केस के साथ जुड़े. 'स्पेशल 26', 'बेबी' और 'एयरलिफ्ट' के बाद 'रुस्तम' के किरदार में अक्षय कुमार ने एकबार फिर साबित किया था कि उनमें हर किरदार को निभाने की जबर्दस्त क्षमता है. नेवल कमांडर की ड्रेस में अक्षय स्क्रीन पर लाजवाब नज़र आए थे. टीनू देसाई ने चर्चित नानावटी केस की पृष्ठभूमि पर लिखी स्क्रिप्ट को दमदार अंदाज में पेश किया था. टीनू को एक सशक्त बेहतरीन कसी हुई स्क्रिप्ट मिली और इसी के चलते टीनू ने इस मर्डर मिस्ट्री को ऐसे ढंग से पेश किया कि दर्शक कहानी और किरदारों के साथ जुड़ पाये थे. 

रोहित धवन, देसी बॉयज (2011)
इस फिल्म को रोहित धवन ने निर्देशन के साथ-साथ लिखा भी था. निर्देशक के रूप में रोहित ने शानदार काम किया था. फिल्म में अक्षय कुमार ने अपनी एक्टिंग के जरिये नॉर्मल स्क्रिप्ट में भी जान डाल दी थी. हास्य के साथ-साथ इमोशनल सीन में भी उनका अभिनय अच्छा थी. 

आशीष आर मोहन, खिलाड़ी 786 (2012)
आशीष आर मोहन की पहली डायरेक्टेड फिल्म में अक्षय कुमार के अभिनय की बात की जाए तो उन्होनें अपना शत-प्रतिशत दिया था. मनोरंजन से लेकर कॉमडी और एक्शन तक में उन्होंने कोई कसर नहीं छोड़ी थी. ये फिल्म युवाओं के लिए किसी ट्रीट से कम नहीं था.   

Recommended

Loading...
Share