PeepingMoon 2020: इरफान से लेकर सुशांत सिंह राजपूत तक, इन सेलेब्स के निधन ने बॉलीवुड ही नहीं फैंस की भी आंखों को किया नम

By  
on  

साल 2020 पूरी दुनिया के लिए ही नहीं बल्कि भारतीय फिल्म इंडस्ट्री के लिए भी किसी काले साल की तरह रहा है. इस साल ने फिल्म लवर्स से उनके बेहद पसंदीदा और टैलेंटेड स्टार्स को छीनकर उन्हें एक बहुत बड़ा सदमा दिया है. 

ऐसे में चलिए उन स्टार्स की एक झलक देखने हैं, जिन्होंने अपने काम से हमारे दिलों में जगह बनाने के बाद इस दुनिया को अलविदा कह दिया.

इरफान - 29 अप्रैल, 2020

मार्च 2018 में, इरफान ने एक ट्वीट के माध्यम से खुलासा किया था कि उन्हें एक न्यूरोएंडोक्राइन ट्यूमर का पता चला है. जिसके बाद वे एक साल के लिए ब्रिटेन में इलाज के लिए रहे और फरवरी 2019 में भारत लौट आए. उन्हें 28 अप्रैल 2020 को मुंबई के कोकिलाबेन धीरूभाई अंबानी अस्पताल में भर्ती कराया गया था, जहां उनका कोलोन इन्फेक्शन का इलाज किया जाने लगा. उनके निधन के ठीक 4 दिन पहले उनकी मां सैदा बेगम का जयपुर में निधन हो गया था. इस बीच उन्होंने अपनी फिल्म अंग्रेज़ी मीडियम की शूटिंग की, जो उनकी अंतिम फिल्म थी. उन्हें न्यूरोएंडोक्राइन ट्यूमर था, जोकि हॉर्मोन-उत्पादक कोशिकाओं का एक दुर्लभ प्रकार का कैंसर है.

(यह भी पढ़ें: PeepingMoon 2020: सुशांत सिंह राजपूत की मौत की जांच से लेकर प्रियंका चोपड़ा के ग्रैमी आउटफिट तक, इन 25 बड़े विवादों से घिरा रहा साल)

ऋषि कपूर - 30 अप्रैल, 2020

ऋषि को 2018 में ल्यूकेमिया का पता चला था और वे इलाज के लिए न्यूयॉर्क शहर गए. एक वर्ष के सफल उपचार के बाद, वह 26 सितंबर 2019 को भारत लौट आये. हालांकि, उन्हें सांस लेने में कठिनाई के कारण 29 अप्रैल 2020 को सर एच.एन. रिलायंस फाउंडेशन अस्पताल में भर्ती कराया गया था. 30 अप्रैल 2020 को ल्यूकेमिया से उनकी मृत्यु हो गई. इरफान खान के 24 घंटे से भी कम समय बाद उनकी मृत्यु हो गई. ऋषि का अंतिम संस्कार चंदनवाड़ी श्मशान में किया गया और उनकी राख को बाणगंगा में विसर्जित कर दिया गया.

वाजिद खान - 1 जून, 2020

संगीत निर्देशक वाजिद खान, सलमान खान की लोकप्रिय फिल्मों जैसे 'वॉन्टेड', 'दबंग' फ्रेंचाइजी और 'एक था टाइगर' में अपनी रचनाओं के लिए जाने जाते थे, ने 1 जून को अपनी आखिरी सांस ली. वाजिद को कई मल्टीप्ल इश्यूज थे. उन्हें किडनी की तकलीफ थी और कुछ समय उन्होंने उसे ट्रांसप्लांट करवाया था. लेकिन किडनी में इन्फेक्शन की वजह से उन्हें निधन के 4 दिन पहले वेंटिलेटर पर थे, उनकी स्थिति खराब होने लगी थी. किडनी इन्फेक्शन की शुरुआत थी और फिर वह गंभीर हो गई. 

हालांकि, वाजिद के भाई साजिद ने समाचार एजेंसी को पुष्टि की थी कि संगीतकार ने covid पॉजिटिव टेस्ट किया है, लेकिन उनकी मृत्यु कार्डियक अरेस्ट के कारण हुई.

बासु चटर्जी - 4 जून, 2020

भारतीय फिल्म इंडस्ट्री के महान निर्देशक बासु चटर्जी का निधन 4 जून को 90 वर्ष की उम्र में हुआ. उन्हें गुदगुदाती रोमांटिक फिल्मों के भगवान के नाम से भी जाना जाता था. बासु चटर्जी ने मुंबई में आखिरी सांस ली. बता दे कि बासु चटर्जी को 'छोटी सी बात', 'रजनीगंधा', 'बातों बातों में', 'एक रुका हुआ फैसला', 'चमेली की शादी', 'सारा आकाश', 'पिया का घर', 'उस पार', 'स्वामी', 'खट्टा मिट्टा', 'जीना यहां', 'बातों बातों में', 'अपना पराया' समेत कई हिट्स फिल्मों के निर्देशन के लिए जाना जाता है. वे पहले ऐसे फिल्मकार थे जिन्होंने कोलकाता की छाप से अलग, अपनी एक अलग ही शैली पैदा की. चाहें वो 'चमेली की शादी' हो या 'खट्टा मीठा'. मिडिल क्लास फैमिली की गुदगुदाती और हल्के से छू जाने वाली रोमांटिक कॉमेडी फिल्मों ने बासु दा को सबसे अलग मुकाम हासिल कराया.

चिरंजीवी सरजा - 7 जून, 2020

कन्नड़ सिनेमा के सुपरस्टार चिरंजीवी सरजा के आकस्मिक निधन से कन्नड़ फ़िल्म इंडस्ट्री को गहरा सदमा लगा. 39 साल के चिरंजीवी का दिल का दौरा पड़ने से बेंगलुरु के एक निजी अस्पताल में निधन हो गया. इस दुखद खबर के  आने के समय एक्टर की पत्नी मेघना राज 3 महीने की प्रेग्नेंट थीं.

चिरंजीवी ने 2009 में कन्नड़ फिल्म 'वायुपुत्र' से डेब्यू किया था.  उन्होंने अपने करियर में कुल 22 कन्नड़ फिल्मों में काम किया. उनकी आखिरी रिलीज फिल्म 'शिवार्जुन' थी, जो लॉकडाउन से कुछ वक्त पहले ही रिलीज हुई थी. 

सुशांत सिंह राजपूत - 14 जून, 2020

सुशांत सिंह राजपूत के फैंस के लिए आज भी उनके मौत के सच पर यकीन कर पाना मुश्किल है. बता दें कि सुशांत 14 जून को अपने बांद्रा अपार्टमेंट मे पंखे से लटके हुए पाए गए थे. साल 2013 में फिल्म ‘काई पो छे’ से अपना बॉलीवुड डेब्यू करने वाले सुशांत के निधन ने जैसे पूरे देश को झकझोर कर रख दिया था. जिसके बाद एक्टर के फैंस और परिवार ने उनके लिए न्याय की मांग करनी शुरू कर दी.  जिसके बाद एक्टर की गर्लफ्रेंड रिया चक्रवर्ती को गुरफ्तार करने से लेकर इंडस्ट्री में मौजूद ग्रुप्स, नेपोटिज्म जैसे मुद्दों पर जैसे बहस छिड़ गई थी. फिलहाल की बात करें तो मामला CBI के हाथ में है और एक्टर की गर्लफ्रेंड को जमानत मिल चुकी है.

सरोज खान - 3 जुलाई, 2020

बॉलीवुड की दिग्गज कोरियोग्राफर सरोज खान का निधन 2 जुलाई को कार्डियक अरेस्ट की वजह से हुआ. 72 साल की उम्र सरोज खान का कार्डियक अरेस्ट की वजह से मुंबई के बांद्रा स्थित गुरु नानक अस्पताल में निधन हो गया. सरोज जी बचपन में अपनी परछाईं देख नाचती थीं.माँ ने सोचा बेटी को किसी साए ने जकड़ रखा है.नीम हकीम से जब बात न बनी तो बीमारी समझ डॉक्टर के पास ले गईं.डॉक्टर ने कहा आपकी बच्ची में ये ईश्वर का दिया गुण है.इसे जी भर के नाचने दीजिए.रोक टोक बिलकुल न कीजिए. हो सके तो कोशिश करके फ़िल्म लाइन में भेजिए.इस घटना के बाद सरोज जी ने अपने हुनर को कुछ ऐसा निखारा कि 3 साल की उम्र से काम करना शुरु कर दिया. 

एसपी बालासुब्रह्मण्यम - 25 सितंबर, 2020

कोरोना वायरस का अनुभवी गायक एसपी बालासुब्रह्मण्यम किया गया हमला आखिर में उन्हें अपने साथ लेकर गया. 25 सितंबर, 2020 को 74 वर्ष की आयु में उन्होंने अपनी आखिरी सांस ली. उन्हें वायरस से पॉजिटिव टेस्ट किये जाने के बाद उन्हें 5 अगस्त से चेन्नई के एमजीएम हेल्थकेयर अस्पताल में भर्ती कराया गया था. हालांकि, उन्हें 8 सितंबर को covid निगेटिव टेस्ट किया गया, लेकिन फेफड़ों की स्थिति के कारण वेंटिलेटर से हटाए नहीं जा सके. जिसके बाद उन्होंने सभी को अलविदा कह दिया.

आपको बता दें कि बाला सुब्रमण्यम ने पांच दशक से भी ज्यादा वक़्त तक सिनेमा के लिए काम किया है. उन्होंने अपने करियर में 16 भाषाओं के 40,000 से ज्यादा गानों में अपनी आवाज दी. हिंदी सिनेमा में उन्होंने अपने करियर की शुरुआत 1981 में कमल हासन पर फिल्माए गए गाने 'एक दूजे के लिए' में अपनी आवाज से की थी. 

सौमित्र चटर्जी - 15 नवंबर, 2020

दिग्गज बंगाली एक्टर सौमित्र चटर्जी का निधन COVID-19 की जटिलताओं के कारण हुआ. 6 अक्टूबर को कोरोना पॉजिटिव पाए जाने के बाद उन्हें Belle Vue अस्पताल में भर्ती कराया गया था. हालांकि, उन्हें बचाया नहीं जा सका. खबरों के मुताबिक, दिग्गज एक्टर प्रोस्टेट कैंसर से पीड़ित थे, जिसके लिए कुछ साल पहले उनका इलाज हुआ था.उन्हें क्रॉनिक ऑब्सट्रक्टिव पल्मोनरी डिसऑर्डर भी था.

चटर्जी को दादा साहेब फाल्के पुरस्कार और पद्म भूषण पुरस्कार से सम्मानित किया गया था. उन्हें 2018 में फ्रांस का सर्वोच्च नागरिक पुरस्कार, लीजन ऑफ ऑनर भी मिला था.उन्होंने ऑस्कर विजेता सत्यजीत रे के साथ काम किया था और अपनी फिल्मों में फेलुदा की भूमिका को उन्होंने अमर कर दिया. उनकी प्रशंसित फिल्मों में अशानी संकते, घरे बैरे, अरण्यर दिन रात्रि, झिंदर बन्दी, चाहत बान्धा और कई अन्य शामिल हैं.

फैशन की दुनिया से

वेंडेल रॉड्रिक्स - 12 फरवरी, 2020

प्रशंसित फैशन डिजाइनर वेंडेल रॉड्रिक्स का निधन फैशन इंडस्ट्री से लेकर एंटरटेनमेंट इंडस्ट्री तक के लिए किसी शॉक से कम नहीं था. बता दें कि उनकी उम्र केवल 59 वर्ष थी, उन्हें बतौर लेखक, पर्यावरणविद और समलैंगिक अधिकारों के मुखर समर्थक के रूप में जाना जाता था. 

रॉड्रिक्स का जन्म 28 मई, 1960 को एक गोअन परिवार में हुआ था. उन्होंने अपने करियर की शुरुआत  गार्डन वेरली, लक्मे कॉस्मेटिक्स और डीबियर्स के लिए डिजाइन करने से किया था. वह समलैंगिक थे और 2002 में पेरिस में एक नागरिक समारोह में उन्होंने जेरोम मारेल से शादी की थी. उन्हें न्यूनतमवाद के गुरु के रूप में सम्मानित किया गया था. उन्होंने 2003 में फिल्म 'बूम' में और 2002 में टीवी की दुनिया में 'ट्रू वेस्ट' प्ले में एक्टिंग की थी. इतना ही नहीं उन्होंने प्रियंका चोपड़ा और कंगना रनौत स्टारर फिल्म 'फैशन' में भी काम किया था. इन सभी के अलावा उन्हें 2014 में भारत सरकार द्वारा पद्म श्री- भारत के चौथे सर्वोच्च नागरिक पुरस्कार से सम्मानित किया गया था.

भानु अथैया - 15 अक्टूबर, 2020

भारत की पहली ऑस्कर विजेता, कॉस्ट्यूम डिज़ाइनर भानु अथैया का निधन 91 वर्ष की आयु में हुआ. उनकी बेटी राधिका गुप्ता ने एक जानी मानी न्यूज एजेंसी से बात करते हुए कहा है, "उनका आज सुबह निधन हो गया. आठ साल पहले, उनके ब्रेन में ट्यूमर का पता चला था. पिछले तीन साल से वह बेड पर थीं, क्योंकि उनका एक हिस्सा लकवाग्रस्त हो गया था." ऐसे में उनका अंतिम संस्कार दक्षिण मुंबई के चंदनवाड़ी श्मशान में हुआ.

1982 की फिल्म गांधी में अपने काम के लिए भानु अथैया ने सर्वश्रेष्ठ कॉस्ट्यूम डिज़ाइन ऑस्कर जीता था. वह रिचर्ड एटनबरो द्वारा डायरेक्ट की गयी फिल्म में मौजूद किरदारों को एक प्रामाणिक रूप देने में कामयाब रही थी.अपने संस्मरण द आर्ट ऑफ़ कॉस्ट्यूम डिज़ाइन में, अथैया ने बताया था कि फिल्म के हेड डिपार्टमेंट के बीच वह एकमात्र भारतीय थीं. 2012 में, भानु अथैया ने अपने ऑस्कर को सुरक्षित रखने के लिए मोशन पिक्चर आर्ट्स एंड साइंसेज की अकादमी को वापस कर दिया था.

दिग्गज हस्तियां 

निम्मी - 25 मार्च, 2020

गुजरे जमाने की मशहूर अदाकारा निम्मी का 88 साल की उम्र में मुंबई में निधन हो गया. मुंबई के सरला नर्सिंग होम में उन्होंने 6 करीब आखिरी सांस ली. पिछले कुछ  उनकी सेहत ठीक नहीं थी. 18 मार्च को उनका 87वां जन्मदिन मनाया गया था. निम्मी ने 1950 और 1960 के दशक के दौरान फिल्मों में काम किया था.

जगदीप- 8 जुलाई, 2020

दिग्गज अभिनेता जगदीप ने 81 साल की उम्र में दुनिया को अलविदा कह दिया था. अपने 'सूरमा भोपाली' के किरदार के लिए प्रसिद्ध जगदीप का यह असली नाम नहीं है. बता दें कि यह उनका स्टेज नेम है, जिससे उन्हें उनके पूरे करियर के दौरान पहचाना गया. वहीं, उनका असली नाम सैयद इश्तियाक अहमद जाफरी है, जो सिर्फ उनके करीबी लोगों को ही पता था. जगदीप का जन्म 29 मार्च, 1939 को दतिया, मध्य प्रदेश में हुआ था. साल 1947 में इंडिया पाकिस्तान के पार्टीशन के दौरान जगदीप साहब मुंबई आ गए थे. उस समय उनकी उम्र महज 6 से 7 साल थी. बता दे कि जगदीप साहब की देखरेख उनकी मां ने की थी, ऐसा इसलिए क्योंकि उनके पिता का इंतकाल बेहद कम उम्र में ही हो गया था. 

आर चोपड़ा की 'अफसाना' में पहली बार बतौर चाइल्ड आर्टिस्ट काम किया था. जिसके लिए उन्हें 3 रूपये मिले थे. बता दें कि उन्होंने अपने 35 साल के करियर में चाइल्ड आर्टिस्ट से लीड एक्टर और कॉमेडियन तक के रोल को करते हुए 400 से ज्यादा फिल्मों में काम किया था.

कुमकुम - 28 जुलाई, 2020

दिग्गज अभिनेत्री कुमकुम का निधन 28 जुलाई, 2020 को 86 वर्ष की आयु में हुआ था. उन्होंने 100 से अधिक फिल्मों में अभिनय किया था. उनके सबसे यादगार कामों में से एक मदर इंडिया, कोहिनूर, उजाला, एक सपेरा एक लुटेरा, नया दौर, राजा और रंक, गीत, आंखें, लालकर शामिल हैं. वह पहली भोजपुरी फिल्म गंगा मैया तोहे पियारी चढाईबो की लीड एक्ट्रेस थीं.

पंडित जसराज - 17 अगस्त, 2020

पद्म विभूषण पंडित जसराज का 90 वर्ष की आयु में इस दुनिया को अलविदा कह गए.  पंडित जसराज ने न्यू जर्सी, यूनाइटेड स्टेट में अपनी अंतिम सांस ली. पंडित जसराज को उनके जीवनकाल में पद्म विभूषण, पद्म भूषण और पद्म श्री पुरस्कारों से सम्मानित किया गया था.

अस्ताद देबू - 10 दिसंबर, 2020

दिग्गज नर्तक और कोरियोग्राफर अस्ताद देबू ने नॉन-हॉजकिंस लिम्फोमा से ग्रस्त होने के बाद आखिरी सांस ली. उन्हें भारत में आधुनिक नृत्य का अग्रणी माना जाता था. अपने करियर के दौरान उन्होंने पिना बाउश, एलिसन बेकर चेज़ और पिंक फ़्लॉइड सहित कलाकारों के साथ काम किया और दुनिया भर में अपने प्रदर्शन से नाम कमाया. उन्हें 1996 में भारत सरकार द्वारा संगीत नाटक अकादमी पुरस्कार और 2007 में पद्म श्री से सम्मानित किया गया था.

उल्लेखनीय फ़िल्मी व्यक्तित्व

निशिकांत कामत - 17 अगस्त, 2020

फिल्म मेकर निशिकांत कामत का निधन पूरे बॉलीवुड इंडस्ट्री के लिए किसी बड़े सदमे की तरह था. फिल्म मेकर को गंभीर हालत में हैदराबाद के एक प्राइवेट अस्पताल में भर्ती कराया गया था. कथित तौर पर, कामत पहले से लीवर सिरोसिस से पीड़ित थे, जो अब रिलैप्स हो गया था. कामत को 'दृश्यम', 'मदारी', 'मुंबई मेरी जान' जैसी कई अन्य फिल्मों के लिए जाना जाता है. इसके अलावा फिल्म मेकर ने कई मराठी फिल्मों में भी काम किया है, जैसे 'साच्या आट घरत', अन्य के नाम शामिल है. साल 2005 में मराठी फिल्म डोंबिवली फास्ट के साथ उन्होंने अपना डायरेक्शनल डेब्यू किया था, फिल्म साल की बड़ी हिट फिल्मों में से एक बन गई थी. इतना ही नहीं फिल्म ने साल 2006 में मराठी में सर्वश्रेष्ठ फीचर फिल्म के लिए राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार भी अपने नाम किया था.

निशिकांत कामत को 2016 में रिलीज़ हुई जॉन अब्राहम-स्टारर रॉकी हैंडसम में निगेटिव रोल निभाते हुए देखा गया था. इसके अलावा, उन्होंने भावेश जोशी सुपरहीरो,  फुगे और जूली 2 में भी काम किया है. निशीकांत फिलहाल 'दरबदर' पर काम कर रहे थे, जो 2022 में रिलीज़ होने की उम्मीद थी.

अनिल देवगन - 5 अक्टूबर, 2020

अजय देवगन के चचेरे भाई अनिल देवगन का 5 अक्टूबर, 2020 को निधन हो गया. उन्होंने अपनी दो फिल्मों राजू चाचा और ब्लैकमेल में अजय को निर्देशित किया था. कार्डियक अरेस्ट के कारण 51 साल की उम्र में उनका निधन हो गया. 

Recommended

Loading...
Share