इंग्लिश, हिंदी के अलावा फर्राटेदार फ्रेंच भाषा भी बोलते हैं करण जौहर - जाने बर्थडे आइकन से जुड़े 7 Unknown Facts

By  
on  

बॉलीवुड इंडस्ट्री में अपनी फिल्मों से ही नहीं बल्कि फैशन सेंस से भी सभी का दिल जीतने वाले फिल्ममेकर करण जौहर आज अपना 49वां जन्मदिन सेलिब्रेट कर रहे हैं. हिंदी फिल्म इंडस्ट्री में खुद को बतौर लीडिंग डायरेक्टर के रूप में स्थापित करने के अलावा, करण ने फिल्म डायरेक्टर्स के माने जाने वाले तरीकों में भी बदलाव लाया है. करण की फिल्मों में अक्सर उनके बोल्ड और फैशनेबल साइड की झलक देखने मिलती है. 

करण अपने प्रोफेशनल ही नहीं बल्कि पर्सनल लाइफ को लेकर भी अक्सर खबरों में रहते हैं. लेकिन उनसे जुड़ी कुछ ऐसी भी बातें हैं, जो उनके फैंस नहीं जानते होंगे. तो चलिए आज उनके जन्मदिन के खास दिन पर हम उनसे जुड़ी कुछ ऐसी बाते बताते हैं, जिन्हे जानकर आप उनके मुरीद हो जाएंगे.

PeepingMoon Exclusive: करण जौहर के पार्टी सेलिब्रेशन की खबरें निकली झूठी, जाने क्या है सच्चाई

1. फिल्म डायरेक्टर से पहले कॉस्ट्यूम डिजाइनर के रूप में किया है काम 

करण जौहर ने इंडस्ट्री में अपनी शुरुआत बतौर फिल्म डायरेक्टर नहीं की थी, बल्कि शाहरुख खान के साथ डायरेक्टर के रूप में अपनी शुरुआत करने से पहले उन्होंने कॉस्ट्यूम डिजाइनर के रूप में काम किया था. दिलचस्प बात यह है कि बतौर कॉस्ट्यूम डिजाइनर 'DDLJ' में उनका काम शाहरुख को स्टाइल करना था. बाद में, जब उन्होंने फिल्मों का डायरेक्शन करना शुरू किया, तब भी उन्होंने सेलेब्स को तैयार करने के अपने जुनून को जारी रखा. इस तरह से वह शाहरुख के लिए 'दिल तो पागल है' और 'वीर-जारा' और अमिताभ बच्चन के लिए 'मोहब्बतें' में कॉस्ट्यूम डिजाइनर बने थे.  

2. पिता ने की थी एक्टर बनाने की प्लानिंग 

करण जौहर के पिता यश जौहर एक लोकप्रिय फिल्ममेकर थे और वह उन्हें एक एक्टर के रूप में इंडस्ट्री में लॉन्च करना चाहते थे. वह एक फिल्म के लिए पूरी तरह तैयार थे, लेकिन नियति को कुछ और ही मंजूर था.

3. काजोल को मानते हैं अपना लकी चार्म 

करण जौहर काजोल को बॉलीवुड में अपना लकी चार्म मानते हैं और यही कारण है कि वह अपनी सभी फिल्मों में एक्ट्रेस की एक विशेष उपस्थिति को सुरक्षित रखना सुनिश्चित करते हैं, चाहे वह गाने में हो या एक छोटी सी झलक.

4. लगे रहो मुन्नाभाई देखने से पहले उनकी सभी फिल्मों का नाम 'K' अक्षर से शुरू होते थे 

करण जौहर की शुरू की कई हिट फिल्मों के नाम 'K' से शुरू होते हैं, लेकिन उन्होंने इसके पीछे के अंधविश्वास को 'लगे रहो मुन्नाभाई' को देखने के बाद छोड़ने का फैसला किया. दरअसल, राजकुमार हिरानी के डायरेक्शन में बनी फिल्म के क्लाइमेक्स सीन में संजय दत्त और सौरभ शुक्ला अंधविश्वास के बारे में बातचीत करते हैं, जिसे देख करण प्रेरित हुए और उसके बाद उन्होंने अंकशास्त्र में विश्वास करना बंद कर दिया.

5. फ्रेंच में मास्टर डिग्री

बहुत कम लोग जानते हैं लेकिन करण जौहर अपनी मातृभाषा की तरह ही बेहद खूबसूरती से फ्रेंच बोल सकते हैं. वह उन दुर्लभ बॉलीवुड सेलेब्स में से एक हैं जिन्होंने फ्रेंच में मास्टर डिग्री हासिल की है.

6. एक्टिंग डेब्यू 

अनुराग कश्यप की बॉम्बे वेलवेट से करण जौहर ने बतौर एक्टर डेब्यू किया था. बॉक्स ऑफिस पर फिल्म कुछ खास नहीं कर पाई, लेकिन करण के किरदार और एक्टिंग स्किल को फैंस द्वारा खूब पसंद किया गया.

7. लंदन ओलंपिक

पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह के अलावा करण जौहर एकमात्र भारतीय हैं जिन्हें लंदन ओलंपिक के उद्घाटन समारोह में गेस्ट के रूप में आमंत्रित किया गया है.

Recommended

Loading...
Share