'तांडव' विवाद पर महाराष्ट्र के गृहमंत्री अनिल देशमुख का बयान आया सामने, कहा- हमारे पास शिकायत आई है, कार्रवाई करेंगे' 

By  
on  

सैफ अली खान की पोलिटिकल ड्रामा सीरीज तांडव को लेकर विवाद ख़त्म होने का नाम नहीं ले रहा है. निर्देशक अली अब्बास जफ़र द्वारा माफ़ी मांगे जाने और सीरीज के पहले एपिसोड से शिव का उपहास करने के उस विवादित सीन को हटाए जाने की बात कहने के बाद भी मामला अभी गर्म है. उत्तरा प्रदेश की पुलिस मुंबई पहुंचने के बाद अब इस मामले में महाराष्ट्र के गृहमंत्री अनिल देशमुख का बयान सामने आया है. 

अनिल देशमुख ने बुधवार को पत्रकारों से कहा, 'वेब सीरीज 'तांडव' को लेकर हमारे पास शिकायत आई है. हम कानून के हिसाब से कार्रवाई करेंगे. यह ओटीटी प्लेटफॉर्म पर आई है. केंद्र सरकार को ओटीटी पर जो भी सीरीज या फिल्में रिलीज होती हैं उसके लिए कानून बनाना चाहिए ताकि जातीय भेदभाव न हो और इस प्रकार की घटना न घटे.' 

तांडव विवाद:  मुंबई पहुंची यूपी पुलिस, अली अब्बास जफ़र ने सीन में बदलाव करने की कही बात 

 

बता दें, तांडव के मेकर्स पर एक सीन में हिन्दू धार्मिक भावनाओं को आहात करने का आरोप लगा है. कई राजनितिक संघठन इसपर रोष जता चुके है. साथ ही इसे बैन करने के लिए मांग की जा रही है. हालांकि अली अब्बास जफ़र ने उस विवादित सीन को सीरीज से हटाने का फैसला कर लिया है.

अली ने अपने ट्विटर अकाउंट से ट्वीट करते हुए लिखा, हम देश के लोगों की भावनाओं का सम्मान करते हैं. हमारा किसी भी व्यक्ति, जाति, समुदाय, नस्ल, धर्म या धार्मिक विश्वासों की भावनाओं, किसी संस्था, राजनीतिक दल या व्यक्ति का, जीवित या मृत का भावनाओं को आहत करने का इरादा नहीं था. तांडव की कास्ट और क्रू तरफ से व्यक्त की गई चिताओं को संज्ञान में लेते हुए बेब सीरीज में बदलाव करने का निर्णय लिया गया है. हम सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय को इस मामले में मार्गदर्शन करने और समर्थन देने के लिए धन्यवाद करते हैं. हम एक बार फिर माफी मांगते हैं कि अगर किसी व्यक्ति की भावनाएं आहत हुई हैं.'  

Recommended

Loading...
Share