पॉपुलैरिटी के आधार पर में विकल्प नहीं चुनता : राजीव खंडेलवाल

By  
on  

वेब सीरीज 'हक से' के साथ डिजिटल मीडिया में डेब्यू कर रहे एक्टर राजीव खंडेलवाल का कहना है कि वह अपने काम का चुनाव पॉपुलैरिटी के आधार पर नहीं चुनते. बता दें, राजीव टेलीविजन और फिल्म दोनों में काम कर चुके हैं. उनका पहला डेब्यू सीरियल टीवी सीरीज 'क्या हादसा क्या हकीकत' था. इसके बाद 2003 में एकता कपूर के प्रोडक्शन द्वारा निर्मित सीरियल 'कहीं तो होगा' था. इस सीरियल ने उन्हें बहुत बड़ी पॉपुलैरिटी दिलाई.

डिजिटल डेब्यू के बारे में न्यूज़ एजेंसी आईएएनएस ने जब उनसे पूछा तो उन्होंने कहा, 'मैं लोकप्रिय धारणाओं के आधार पर अपने फैसले या विकल्प नहीं चुनता' मैं अपने दिल की आवाज सुनता हूं. मैने अपने पूरे करियर में यही किया है.'

राजीव ने यह भी कहा कि दर्शकों की प्रतिक्रिया से उनकी सोच नहीं बदलती हैं. उन्होंने कहा, 'अगर मैं कुछ माध्यमों में लोकप्रिय हूं और कुछ चीजें कर रहा हूं और अगर मुझे दर्शकों से एक खास तरह की प्रतिक्रिया मिल रही है, तो मैं अपने विचार बिल्कुल नहीं बदलूंगए. मैं प्रत्येक परियोजना पर स्वतंत्रता से विचार करना चाहता हूं और मैं इस बात से प्रभावित नहीं होता कि दुनिया मेरे बारे में क्या सोच रही है.'

अल्ट बालाजी के आगामी डिजिटल शो 'हक से' में अभिनेत्री सुरवीन चावला भी दिखाई देंगी. हाल ही में वेब सीरीज का ट्रेलर जारी किया गया.

Recommended

Loading...
Share