'द बिग बुल' स्टार अभिषेक बच्चन के साथ कम्पेरिजन पर बोले 'स्कैम 1992' एक्टर प्रतीक गांधी, कहा- 'बिस्किट या साबुन में होता है कॉम्पिटिशन, कलाकारों में नहीं'

By  
on  

इसमें कोई दो राय नहीं है कि डिज्नी प्लस हॉटस्टार पर रिलीज हुई फिल्म 'द बिग बुल' में अभिनेता अभिषेक बच्चन ने शानदार अभिनय किया है, लेकिन वहीं हर्षद मेहता के किरदार में वेब सीरीज 'स्कैम 1992' के एक्टर प्रतीक गांधी ने काफी तारीफ पाई हैं. अभिषेक बच्चन के दमदार अभिनय किया पर प्रतीक गांधी भी किसी से कम नहीं थे. एक ही कहानी पर आधारित होने की वजह से फिल्म की रिलीज से पहले ही वेब सीरीज से इसकी तुलना शुरू हो रही है. तो वहीं जब एक ही किरदार को निभाने के लिए दोनो एक्टर्स के बीच भी कम्पेरिजन हो रहा है. वहीं अब  प्रतीक गांधी ने अभिषेक बच्चन के साथ तुलना करने पर रिएक्ट किया है. 

प्रतीक गांधी ने कहा कि, 'कलाकारों के बीच प्रतिस्पर्धा नहीं हो सकती. क्या यह कोई प्रोडेक्ट है जो कॉम्पिटिशन किया जाए. यदि मैं एक बिस्किट या साबुन होता, तो प्रतियोगिता होती. मैं एक इंसान हूं. दो लोगों में कैसे तुलना हो सकती है. एक्टिंग के विभिन्न प्रकार होते है. तो तुलना करना गलत है. मैं इस बात का दबाव नहीं लेता हूं कि आपकी अगली चीज पिछले वाले से बड़ी होनी चाहिए.'

सीरीज 'स्कैम 1992' से पहले मुश्किलों में जिंदगी काट रहे थे प्रतीक गांधी, कहा- 'शबाना आजमी मैडम ने थी तारीफ तो आंखों में आ गए थे आंसू'

बता दें कि, हाल ही में ह्यूमन्स ऑफ बॉम्बे से बात करते हुए प्रतीक गांधी ने स्कैम 1992 में काम मिलने को लेकर बताया था कि, 'मैं कुछ हिंदी फिल्में की और वेब सीरीज कीं. लेकिन मुझे मेरा बड़ा ब्रेक तब मिला जब मुझे हंसल मेहता की टीम से कॉल आई. मैं सोनी लिव की सीरीज स्कैम 1992 में हर्षद मेहता के रोल के लिए शॉर्टलिस्ट हो गया था. मैंने अपने रोल की तैयारी तुरंत शुरू कर दी. हर्षद मेहता की पुरानी न्यूज क्लिपिंग्स देखने से लेकर स्टॉक मार्केट के बारे में पढ़ने तक, मैंने सबकुछ किया. और फिर शो रिलीज हो गया.'

वहीं शो के हिट होने के बाद प्रतीक गांधी की जिंदगी में बड़े बदलाव पर कहा था कि, 'उस समय मैंने ये नहीं समझा था कि शो कितना बड़ा हिट हुआ बना है. वो बहुत बढ़िया था. जब शबाना आजमी मैडम ने मुझे कहा कि उन्होंने 20 साल में जो सबसे बेहतरीन परफॉरमेंस देखी है वो मेरी है, तो मेरी आंखों में आंसू आ गए थे. मेरी पत्नी बेहद खुश थी. जब मेरे माता-पिता ने मुझे IIFA अवॉर्ड जीतते देखा तो वह इमोशनल हो गए थे.'

(Source: IANS)

Recommended

Loading...
Share