20 Years Of Lagaan: नेटफ्लिक्स डॉक्यूमेंट्री 'चले चलो लगान' के लिए फिर साथ आए आमिर खान और आशुतोष गोवारिकर, टीज़र हुआ आउट

By  
on  

आमिर खान की फिल्म लगान को 20 साल पूरे हो गए हैं. साल 2001 में 15 जून के ही दिन यह फिल्म रिलीज हुई थी और इसे भारत में ही नहीं बल्कि विदेशों में भी काफी पसंद किया गया था. ऑइकॉनिक फिल्म लगान को आशुतोष गोवारिकर ने डायरेक्ट और आमिर खान ने प्रोड्यूस किया था. लैंडमार्क पीरियड ड्रामा 190 से अधिक देशों में नेटफ्लिक्स पर मौजूद है. 

लगान के दो दशक पूरे होने पर, नेटफ्लिक्स, आमिर खान प्रोडक्शंस और आशुतोष गोवारिकर इंडियन सिनेमा में इस ऐतिहासिक पल का जश्न मनाने के लिए साथ आए है. नेटफ्लिक्स डॉक्यूमेंट्री 'चले चलो लगान - वन्स अपॉन एन इम्पॉसिबल ड्रीम' की ऑफिशियल अनाउंसमेंट हो गई है. ये डॉक्यूमेंट्री नेटफ्लिक्स इंडिया के यूट्यूब चैनल पर स्ट्रीम होगी. 'लगान' को फॉरेन लैंग्वेज फिल्म की कैटिगरी में ऑस्कर अवॉर्ड्स में भेजा गया था. फिल्म काफी दिलचस्प थी और इसमें बड़ी चतुराई से क्रिकेट के साथ देशप्रेम की भावना को जोड़ा गया था. फिल्म में आमिर खान ने भुवन का किरदार निभाया था. 

20 Years Of Lagaan: टेक्नोलॉजी के हिसाब से आज 'लगान' को बनाना आसान होगा, गांव में 10, 000 लोगों को इकठ्ठा करना मुश्किल था- आमिर खान 
 

लगान की जबरदस्त जर्नी  के बारे में बात करते हुए, आमिर खान ने कहा, 'मुझे नहीं पता कि 'लगान' भी हमेशा वैसे ही पसंद की जाएगी जैसे मुगल-ए-आजम, मदर इंडिया, गंगा जमुमा या शोले को पसंद किया जाता है. मुझे नहीं पता कि आगे भी लोग इसे पसंद करेंगे या नहीं. मेरे लिए लगान एक बेहतरीन सफर था जिसमें मैंने बहुत कुछ सीखा. मेरे अंकल नासिर हुसैन कहते थे- जो बेहतरीन फिल्में बनती हैं वो आप बनाते नहीं हो, वो बन जाती हैं। कोई आपको बोलेगा दोबारा बनाओ, तो आप शायद खुद नहीं बना पाओगे. लगान को बनाने में हमें काफी स्ट्रगल करना पड़ा था. जो कहानी आशुतोष ने लिखी थी, हमने उसे अच्छा बनाने की पूरी कोशिश की. हमें कोई आइडिया नहीं था कि ये अच्छी बनेगी, पॉप्युलर होगी, 20 साल बाद भी हम उसके बारे में बात करें. मगर मैं एक बात ईमानदारी और पूरे आत्मविश्वास के साथ कहना चाहता हूं कि फिल्म से जुड़ा हर आदमी इससे इमोशनली जुड़ कर काम कर रहा था.'

आमिर खान ने 'लगान' के ऑस्कर नहीं जीतने पर अफसोस जताते हुए कहा, 'मुझसे अक्सर पूछा जाता है कि ऑस्कर नहीं जीतने पर आप कितने निराश हुए थे? जाहिर तौर पर मैं निराथ था और जीतना चाहता था. कुछ लोगों ने कहा कि हो सकता है कि गानों और फिल्म की लंबाई के कारण यह ऑस्कर नहीं जीती? सच्चाई तो यह है कि फिल्म टॉप 5 नॉमिनेशंस में शामिल थी और अकैडेमी मेंबर्स को पसंद आई थी. आप फिल्मों की आपस में तुलना नहीं कर सकते. आप लगान की तुलना दंगल से नहीं कर सकते. शायद जूरी को दूसरी फिल्म ज्यादा पसंद आई. ऑस्कर के कारण फिल्म को दुनियाभर में पहचान मिली और जिन लोगों ने लगान नहीं देखी थी उन्होंने भी देखी और लोगों को पसंद आई.'

इस अविश्वसनीय उपलब्धि का जश्न मनाते हुए, डायरेक्टर आशुतोष गोवारिकर ने कहा, 'मेरा सपना कुछ ऐसा बनाना था जो दर्शकों के दिमाग में रहे. 20 साल बाद इसकी सराहना की जाएगी, यह अकल्पनीय है. मेरे लिए और फिल्म की पूरी टीम के लिए यह बेहद खुशी की बात है कि यह सपना सच हो गया. लगान लोगों के एक साथ आने और सभी बाधाओं के खिलाफ एकजुट होने की कहानी है. आज, नेटफ्लिक्स के साथ इस स्पेशल रीयूनियन के जरिए हम यहां इकट्टे होकर लोगों के विश्वास का जश्न मनाते हैं, ये हम बेहद गर्व का पल.'

नेटफ्लिक्स इंडिया, वीपी, कंटेंट, मोनिका शेरगिल, ने कहा कि, 'लगान भारतीय सिनेमा की सबसे ऑइकॉनिक क्रिएशऩ में से एक है. यह एक महाकाव्य कहानी है जिसने हर जगह दिल जीता और ग्लोबल स्थर पर भारतीय कहानी की प्रतिभा को दिखाया है. फिल्म की शानदार टीम के साथ 20 साल पूरे होने का जश्न मनाना नेटफ्लिक्स के लिए सम्मान की बात है. हम एक्साउडेट है कि यह पॉवरफुल और इंस्पायरिंग कहानी नेटफ्लिक्स के साथ दुनिया भर के दर्शकों को एंटरटेन करती रहेगी.'

Recommended

Loading...
Share