'भुज: द प्राइड ऑफ इंडिया' का नया गाना 'ज़ालिमा कोको कोला' हुआ आउट, नोरा फतेही ने अपनी अदाएं, नज़ाकत और डांस से जीता दिल

By  
on  

नोरा फतेही न केवल भारत में बल्कि दुनिया भर में सबसे लोकप्रिय, सफल और पसंदीदा कलाकारों में से एक के रूप में जानी जाती हैं, जिसका कारण उनकी आकर्षक चाल और करिश्माई व्यक्तित्व को बताया जाता है। एक बार फिर सबका दिल जीतते हुए, नोरा फतेही ‘भुज: द प्राइड ऑफ इंडिया ’के नवीनतम गीत 'ज़ालिमा कोको कोला' में देसी अंदाज दिखाते हुए, अपने एक्सप्रेशन और सुंदरता के लिए  में हर तरफ से प्रशंसा बटोर रही है।

लोकगीत जैसी धुनों पर नृत्य करते हुए, नोरा फतेही ने अपने एक्सप्रेशन के खेल से अपनी भावनाओं को पूरी तरह से मंत्रमुग्ध कर देने वाले डांस मूव्स के साथ जोड़ दिया है।

'भुज: द प्राइड ऑफ इंडिया' की शूटिंग के दौरान नोरा फतेही को लगी थी चोट, चेहरे पर बना निशान

कविता की तरह मधुर भावों के साथ अपना जादू बिखेरते हुए, नोरा को देसी अंदाज़ में देखना सबके मन को जीत रहा है। नोरा फतेही ने अपने प्रदर्शन के माध्यम से सांस्कृतिक विविधताओं को उपयुक्त रूप से आत्मसात करते हुए अपनी अभिनय की क्षमताओं के विभिन्न आयामों की खोज करके अपनी प्रतिभा को उजागर किया।
हीना रहमान के रूप में नोरा फतेही की विशेषता, 'ज़ालिमा कोको कोला' 1971 में भारत-पाकिस्तान युद्ध के सामाजिक और राजनीतिक आधार पर स्थापित है, जिसमें अभिनेत्री को पूर्ण देसी अवतार में दिखाया गया है।

एक जासूस का किरदार निभाते हुए, नोरा फतेही को कभी इस अंदाज़ में देखा नही गया है, जिससे उनके प्रदर्शन को देखने के लिए जानता काफी उत्साहित है।

(Souce: Youtube)

Recommended

Loading...
Share