'बिग बॉस 14' में जाना पड़ा राधे मां पर भारी, अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के प्रमुख ने कहा- 'वह न तो संत हैं और न ही सन्यासी'

By  
on  

स्वघोषित भगवान राधे मां ने रियलिटी शो बिग बॉस 14 में हिस्सा लेकर अपनी मुश्किलें कहीं न कहीं बढ़ा ली हैं. जी हां, अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद (ABAP) राधे मां से नाराज है. ABAP, जो साधु-संतों और सिद्ध पुरुषों की सर्वोच्च संस्था है, ने राधे मां के साथ खुद को पूरी तरह से अलग कर लिया है.

अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के प्रमुख महंत नरेंद्र गिरि ने अपने बयान में कहा है कि "राधे मां न तो कोई संत हैं और न ही कोई तपस्विनी. अब वह किसी भी अखाड़े से ताल्लुक नहीं रखती हैं. कुछ समय पहले जूना अखाड़ा ने उन्हें महामंडलेश्वर की उपाधि से सुशोभित किया था लेकिन जब उन्होंने अपना असली रंग दिखाया तो असलियत सामने आ गई. उन्हें न तो किसी धर्म की जानकारी है और न ही धार्मिक शास्त्रों के बारे में कुछ पता है. वह बस गाना और नाचना जानती हैं. यह चीज उन्हें न तो कोई धार्मिक व्यक्ति बनाती है और न ही किसी धर्म के लिए उपदेश देने का हक देती हैं."

(यह भी पढ़ें: Bigg Boss 14 Grand Premiere: कंटेस्टेंट बन कर नहीं आशीर्वाद देने के लिए शो में पहुंची राधे मां)

आपको याद होगा कि इस सीजन की शुरुआत में राधे मां ने बिग बॉस 14 के प्रोमो में एक्ट किया था और यह माना जा रहा था कि वह घर में मौजूद कंटेस्टेंट्स में से एक होंगी. हालांकि, ऐसा कुछ नहीं हुआ, बल्कि वह घर में आई जरूर थीं लेकिन घर के अंदर 'आशीर्वाद' देने के लिए.

(Source: Ians)

Recommended

Loading...
Share