'कौन बनेगा करोड़पति' से लेकर 'भाभीजी घर पर हैं' तक, इन शो की शुरू होगी शूटिंग; FWICE ने जारी किये नए दिशा-निर्देश

By  
on  

टीवी शो देखने वालो के लिए लॉकडाउन में एक अच्छी खबर सुनने में आ रही है. दरअसल, तीन महीने से ज्यादा समय तक शोज की शूटिंग रुकने के बाद, टेली शो नए दिशा-निर्देशों के साथ जून के अंत तक अपनी शूटिंग फिर से शुरू करने के लिए तैयार हैं. एकता कपूर के शोज, 'कौन बनेगा करोड़पति' और 'भाभीजी घर पर है' के मेकर्स जल्द ही एक सीमित क्रू के साथ शूटिंग शुरू करेंगे.

एक मनोरंजन वेबसाइट के साथ एक्सक्लूसिव चैट के दौरान, फेडरेशन ऑफ वेस्टर्न इंडिया सिने एम्प्लॉई (FWICE) के अध्यक्ष बीएन तिवारी ने खुलासा किया कि उन्होंने प्रोड्यूसर्स के सामने रोज काम करने वाले मजदूरों को ध्यान में रखते हुए कुछ शर्ते रखी हैं.

(यह भी पढ़ें: लॉकडाउन के बीच अमिताभ बच्चन ने की KBC की शूटिंग, कहा- 'हां मैंने काम किया, परेशानी है तो अपने तक रखें')

शूटिंग को फिर से शुरू करने के लिए टीवी प्रोड्यूसर्स के सामने यह दिशा-निर्देश रखे गए हैं:

1. FWICE ने सभी को मास्क पहनना और सेनिटाइज़र का इस्तेमाल करने के बारे में प्रशिक्षित करना शुरू कर दिया है. हर सेट में एक निरीक्षक होगा, जो यह निरीक्षण करेगा कि कौन मास्क पहने हुए है और कौन नहीं. जब तक, वर्कर्स को इसकी आदत नहीं पद जाती है, तब तक निरीक्षक बने रहेंगे.

2. अगर किसी वर्कर की मौत कोरोनावायरस की वजह से होती है, तो चैनल और प्रोड्यूसर को उस वर्कर के परिवार को 50 लाख रुपये का मुआवजा देना होगा और उनके चिकित्सा का खर्च का भी ध्यान रखना होगा. आकस्मिक मौतों के लिए, प्रोड्यूसर्स ने 40-42 लाख रुपये दिए हैं, लेकिन FWICE ने न्यूनतम मुआवजे की राशि 50 लाख रुपये रखी है. इस तरह से वर्कर्स का आत्मविश्वास बढ़ेगा, जिन्हें यह आश्वासन दिया जाएगा कि अगर उनके साथ कुछ होता है तो प्रोड्यूसर उनके परिवार की देखभाल करेंगे.

3. एक शूटिंग के दौरान, सेट पर कम से कम 100 या उससे ऊपर के लोग होते हैं. लेकिन, चल रहे हालात को ध्यान में रखते हुए, मेकर्स को सिर्फ 50 प्रतिशत यूनिट के साथ मैनेज करना होगा. इतना ही नहीं प्रोड्यूसर्स को यह भी पुष्टि करनी होगी कि बाकी 50 प्रतिशत दूसरे शिफ्ट में कर सकें, ताकि कोई भी बेरोजगार न हो. हालांकि, 50 वर्ष से अधिक आयु के लोगों को अगले तीन महीनों के लिए घर पर रहने के लिए कहा गया है, क्योंकि उन्हें कोविद -19 से अधिक खतरा है.

4. आपातकालीन स्थिति में एंबुलेंस हमेशा सेट पर होनी चाहिए.

FWICE जल्द ही नए दिशा-निर्देशों के बारे में प्रोड्यूसर्स और चैनल हेड के साथ वर्चुअल मीटिंग करने वाली हैं.

(Source: IndiaToday) 

Recommended

Loading...
Share