अभिनव कोहली ने पत्नी श्वेता तिवारी पर लगाया आरोप, कहा- 'मुझे वो मेरे बेटे रेयांश से नहीं मिलने दे रहीं हैं'

By  
on  

पिछले साल ही अभिनव कोहली और श्वेता तिवारी अलग हो गए लेकिन अब तक दोनों ने तलाक नहीं लिया. श्वेता ने पति के खिलाफ घरेलू हिंसा का मामला दर्ज करवाया था. एक्ट्रेस अपने दूसरे पति अभिनव कोहली संग बिगड़ते रिश्ते की वजह से लंबे समय से सुर्खियों में हैं. ऐसे में एक बार फिर उनके यह रिश्ता चर्चा का विषय बना हुआ है. एक तरफ जहां अभिनव कोहली लगातार सोशल मीडिया के जरिए यह बताने की कोशिश कर रहे हैं कि वह अपनी पत्नी श्वेता के संपर्क में हैं, तो वहीं दूसरी ओर श्वेता का कहना है कि वह पहले ही इस बात का जिक्र कर चुकी हैं कि वह अपने पति से अलग रह रही हैं. इसके बाद अभिनव ने सोशल मीडिया पर कुछ व्हाट्सऐप चैट के स्क्रीनशॉट को भी शेयर करते हुए यह बताने की कोशिश की थी कि श्वेता झूठ बोल रही हैं.

इसी बीच अभिनव ने कुछ चौंकाने वाला खुलासा किया है. एक लीडिंग वेबसाइट से बातचीत करते हुए अभिनव ने बताया है कि, 'श्वेता अब उनके साथ सही बर्ताव नहीं कर रही हैं. वह अभिनव को उनके बच्चे से भी नहीं मिलने दे रही हैं. श्वेता पर इल्जाम लगाते हुए अभिनव यह भी कहते हैं कि वह मेरे साथ एक नौकर की तरह ट्रीट कर रही हैं. अभिनव ने कहा कि, 'उन्हें अपने बच्चे से मिले हुए एक महीने से ज्यादा समय हो गया है. मैं 14 मई को रेयांश से मिलने गया था तो श्वेता ने पुलिस को फोन कर दिया.श्वेता ने मुझे मेरे बेटे से फादर्स डे पर भी नहीं मिलने दिया.'
 

अभिनव ने कहा कि, 'श्वेता ने 14 मई को मुझे एक वीडियो कॉल किया. रेयांश रो रहा था और वह मुझसे बात करना चाहता था. अचानक श्वेता कमरे से बाहर चली गई और दरवाजा बंद कर दिया। रेयांश बहुत तेजी से चिल्लाया और उसने गुस्से में आईपैड फेंक दिया. मैं काफी चिंतित था और इसलिए मैं श्वेता के घर के लिए रवाना हुआ. श्वेता ने पुलिस को फोन किया और मुझे उसके घर से बाहर निकाल दिया. मेरी क्या गलती थी, मुझे बस अपने बच्चे की चिंता थी, जिसके लिए मैं वहां गया था.'

Recommended Read: अभिनव कोहली ने शेयर किये पलक तिवारी के पोस्ट, श्वेता तिवारी ने कहा- 'मेरी बेटी के बारे में पोस्ट करना बंद करो'


अभिनव आगे कहते हैं कि, 'इन दो महीनों में मैं फोन और वीडियो कॉल के माध्यम से रेयांश के संपर्क में रहा हूं और जब मैं 14 मई को उससे मिलने गया, तो श्वेता ने पुलिस को फोन किया और मुझे बाहर कर दिया. मैं पुलिस से गुहार लगा रहा था कि मुझे एक बार मेरे बेटे से मिलने दिया जाए. मैं उस दिन पुलिस स्टेशन में बैठा और तीन घंटे तक रोता रहा. मैं असहाय महसूस कर रहा था अपने बच्चे से नहीं मिल पाने को लेकर. पुलिसकर्मियों ने कहा, “अरे कोहली, तुम चुप रहो, तुम आदमी हो कर क्यों रो रहे हो?” मैंने उससे कहा कि मैं केवल अपने बेटे से मिलना चाहता हूं. मैंने क्या अपराध किया है जो मुझे यहां लाया गया है? 15 मई को, मैं फिर से श्वेता के घर गया क्योंकि मैं नहीं चाहता था कि मेरा बेटा यह देखकर बड़ा हो जाए कि उसके पिता ने एक बार भी ट्राई करने की कोशिश नहीं की। और उसकी मां काफी मजबूत है जिसने पुलिस को बुलाया और मुझे बाहर निकाला. मैं उस दिन उसके साथ खेला था. उस दिन के बाद से जब भी मैं रेयांश से मिलने की कोशिश करता, श्वेता बहाना बनाने लगती। कभी वह कहती है कि वह सो रहा है, कभी-कभी वह कुछ कहती है और मेरे मुंह पर दरवाजा बंद कर देती है। इसे घर के अंदर न आने दें.'

(Source:TOI)

Recommended

Loading...
Share